×

ट्रैक्टर रैली में जान गंवाने वाले 'नवरीत' के अंतिम अरदास में शामिल हुई प्रियंका गांधी

केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का आंदोलन गुरुवार के दिन भी जारी है। किसान सिंघु बॉर्डर पर 71 दिनों से और गाजीपुर बॉर्डर पर 69 दिनों से धरने पर बैठे हुए हैं।

Aditya Mishra
Published on: 4 Feb 2021 9:17 AM GMT
ट्रैक्टर रैली में जान गंवाने वाले नवरीत के अंतिम अरदास में शामिल हुई प्रियंका गांधी
X
रामपुर जाते वक्त रास्ते में प्रियंका के काफिले की गाड़ियां आपस में टकरा गईं। लेकिन इस दौरान किसी को भी चोट नहीं पहुंची और सभी नेता सुरक्षित रहे।
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ/रामपुर: कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा गुरुवार को उत्तर प्रदेश के रामपुर पहुंचीं। प्रियंका गांधी ने यहां गणतंत्र दिवस पर किसानों के ट्रैक्टर रैली के दौरान जान गंवाने वाले युवक नवरीत सिंह के परिजनों से मुलाकात की। उन्हें सांत्वना दी।

उनके साथ यूपी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू भी मौजूद रहे। प्रियंका नवरीत सिंह के अंतिम अरदास कार्यक्रम में भी शामिल हुंईं।

गौरतलब है कि दिल्ली में ट्रैक्टर हादसे के बाद दिल्ली पुलिस की ओर से एक वीडियो जारी किया गया था जिसमें देखा गया था कि आईटीओ के पास पुलिस बैरिकेड को तोड़ने की कोशिश में तेज रफ्तार ट्रैक्टर पलट जाता है।

इस ट्रैक्टर के नीचे नवरीत सिंह दब जाते हैं। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक नवरीत सिंह की मौत दुर्घटना के कारण हुई थी।

राकेश टिकैत बदनाम! फर्जी FB आईडी पर अश्लील पोस्ट, दर्ज हुई शिकायत

Priyanka Gandhi ट्रैक्टर रैली में जान गंवाने वाले नवरीत के अंतिम अरदास में शामिल हुई प्रियंका गांधी(फोटो:सोशल मीडिया)

हादसे का शिकार होने से बाल-बाल बचे कांग्रेसी नेता

दिल्ली से रामपुर जाते वक्त प्रियंका गांधी का काफिला हादसे का शिकार हो गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार रामपुर जाते वक्त रास्ते में प्रियंका के काफिले की गाड़ियां आपस में टकरा गईं। लेकिन इस दौरान किसी को भी चोट नहीं पहुंची और सभी नेता सुरक्षित रहे।

टिकैत परिवार ने हिलाई कई सरकारेंः जब-जब उठाई आवाज, आया जनसैलाब

Priyanka Gandhi ट्रैक्टर रैली में जान गंवाने वाले नवरीत के अंतिम अरदास में शामिल हुई प्रियंका गांधी(फोटो:सोशल मीडिया)

किसानों से मिलने गाजीपुर बॉर्डर पहुंचे 8 विपक्षी दलों के सांसद, पुलिस ने लौटाया

केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का आंदोलन गुरुवार के दिन भी जारी है। किसान सिंघु बॉर्डर पर 71 दिनों से और गाजीपुर बॉर्डर पर 69 दिनों से धरने पर बैठे हुए हैं।

किसान नेताओं का कहना है कि जब तक सरकार उनकी मांगें पूरी नहीं करेगी। उनका आंदोलन जारी रहेगा। वहीं, विपक्षी नेताओं का दल किसानों से मिलने आज गाजीपुर बॉर्डर पहुंचा।

लेकिन पुलिस ने पहले ही रोक दिया। पुलिस ने 8 विपक्षी नेताओं को किसानों से नहीं मिलने दिया। इसके बाद उन्हें यहां से वापस लौटना पड़ा।

[video width="640" height="352" mp4="https://newstrack.com/wp-content/uploads/2021/02/Priyanka.mp4"][/video]

विपक्ष के आठ बड़े नेताओं को पुलिस ने रोका

पुलिस गाजीपुर बॉर्डर से विपक्षी दलों के नेताओं को दूसरी जगह लेकर गई। विपक्षी दलों के नेताओं में टीएमसी नेता सौगत रॉय, शिरोमणि अकाली दल की हरसिमरत कौर बादल, एनसीपी की सांसद सुप्रिया सुले, डीएमके की एम कनिमोई भी शामिल हैं।

किसानों ने उखाड़ी कीलें! रातोंरात बदली दिल्ली बाॅर्डर की तस्वीर, आंदोलन नहीं अब जंग

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story