×

लखनऊ : प्रसपा लोहिया ने मनाई कर्पूरी ठाकुर की 95वीं जयंती

 प्रसपा लोहिया पिछड़ा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अनिल वर्मा व पार्टी के प्रखंड स्तर के पदाधिकारियों ने कर्पूरी ठाकुर की फोटो पर माल्‍यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किए। जिसमें राजनीति और पिछड़ी जाति के लोगों के लिए उनके द्वारा किए कार्यों पर चर्चा हुई।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 24 Jan 2019 4:06 PM GMT

लखनऊ : प्रसपा लोहिया ने मनाई कर्पूरी ठाकुर की 95वीं जयंती
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ : प्रसपा लोहिया पिछड़ा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अनिल वर्मा व पार्टी के प्रखंड स्तर के पदाधिकारियों ने कर्पूरी ठाकुर की फोटो पर माल्‍यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किए। जिसमें राजनीति और पिछड़ी जाति के लोगों के लिए उनके द्वारा किए कार्यों पर चर्चा हुई।

प्रसाद लोहिया पिछड़ा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अनिल वर्मा ने कहा, आज हम गरीबों के मसीहा कर्पूरी ठाकुर की पुण्यतिथी मना रहे हैं तथा अन्य दल भी उनकी जयंती व पुण्यतिथि पर उनका महिमामंडन करते हैं, लेकिन हम उन्हें महापुरुष के रूप याद करते हैं और वो लोग अति पिछड़ों के वोट के लालच में उन्हे याद करते हैं। दबे, कुचले, शोषित और वंचितों के मसीहा कर्पूरी ठाकुर इन लोगो के लिये पूरे जीवन संघर्ष करते रहे।

वहीं पार्टी प्रवक्ता व प्रदेश महासचिव वीरेंद्र सिंह मौर्या ने कहा अति पिछड़ों के वोटों पर राजनीति करने वाली कई पार्टियों को नजदीक से देख चूके हैं, लेकिन किसी में स्वार्थ के अलावा कुछ नहीं दिखाई दिया।

वहीं लखनऊ महानगर अध्यक्ष रंजीत यादव ने अति पिछड़ों को इकठ्ठा करके देश मे कर्पूरी ठाकुर फार्मूला लागू कराने की बात कही।

पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अजय त्रिपाठी मुन्ना ने कहा कि आज कि आज गरीबों की बात करना गुनाह बन गया है,समान शिक्षा नीति की कोई बात नहीं करता।

राष्ट्रीय प्रवक्ता दीपक मिश्रा ने बताया कि कर्पूरी ठाकुर सदैव दलित, शोषित और वंचित वर्ग के उत्थान के लिए प्रयत्नशील रहे और सर्घष करते रहें।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story