×

Blood Smuggling in Chandauli: यूपी में सामने आया खून तस्करी का बड़ा मामला, 1 गिरफ्तार, पूछताछ में हुए चौंकाने वाले खुलासे

Blood Smuggling Racket in Chandauli: चंदौली में खून की तस्करी करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने एक ब्लड तस्कर को गिरफ्तार किया है।

Network

NetworkNewstrack NetworkAshikiPublished By Ashiki

Published on 31 July 2021 9:32 AM GMT

Blood Smuggling in Chandauli
X

कांसेप्ट इमेज (फोटो- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Blood Smuggling Racket in Chandauli: उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले में खून की तस्करी करने का मामला सामने आया है। चेकिंग के दौरान सदर कोतवाली पुलिस (Chandauli Police) ने एक ब्लड तस्कर (Blood Smuggler) को गिरफ्तार किया है। साथ ही उसके पास से तीन यूनिट ब्लड बरामद हुआ है।

जानकारी के मुताबिक मुखबिर की सूचना पर चेकिंग के दौरान पुलिस ने ब्लड तस्कर को पकड़ा। जबकि एक आरोपी अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया। बताया जा रहा है कि ये तस्कर वाराणसी (Varanasi) के लहुराबीर स्थित ब्लड बैंक (Blood Bank) से खून खरीदकर बिहार प्रांत के मोहनियां व गाजीपुर के स्थित नर्सिंग होम में सप्लाई करते थे।

दो हजार रुपये यूनिट के हिसाब से खरीदा था ब्लड

पूछताछ में पकड़े गए आरोपी ने बताया की वह वाराणसी के लहुराबीर से एक युवक से दो हजार रुपये प्रति यूनिट ब्लड खरीदता है और फिर अलग-अलग जिलों में दोगुने दाम पर खून सप्लाई करता है। आपको बता दें कि 1 साल पहले भी सदर कोतवाली पुलिस (Sadar Kotwali Police) ने ही खून के अवैध कारोबार करने वाले रैकेट का खुलासा किया था। आरोपी ने यह भी बताया कि उसने बिहार (Bihar) के मोहनियां (Mohania) स्थित लक्ष्मी नर्सिंग होम और गाजीपुर (Ghazipur) के दिलदारनगर के निजी अस्पताल में चार हजार रुपये में बेचने के लिए सौदा किया था। वहीं अस्पताल वाले मरीजों को एक यूनिट ब्लड चढ़ाने के लिए 10-10 हजार रुपये वसूलते हैं।


क्या है पूरा मामला?

जानकारी के मुताबिक सदर कोतवाली पुलिस बबुरी मोड़ के पास चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान एक बाइक पर सवार होकर दो युवक आ रहे थे, लेकिन पुलिस को देखते ही दोनों बाइक घुमाकर भागने का प्रयास करने लगे। हालांकि पुलिसकर्मियों ने दौड़कर बाइक चला रहे युवक को पकड़ लिया, लेकिन पीछा बैठा युवक फरार होने में कामयाब हो गया।

दूसरे तस्कर की तलाश में जुटी पुलिस

खून की तस्करी से जुड़े मामले पर कोतवाल अशोक मिश्रा ने बताया कि फरार आरोपित की पहचान हथियानी निवासी भोला के रूप में हुई है। मामले की छानबीन की जा रही है। साथ ही उन्होंने बताया कि दूसरे आरोपित की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। साथ ही इस पूरे मामले से स्वास्थ्य विभाग और आईएमए वाराणसी (IMA Varanasi) को अवगत करा दिया गया है।

Ashiki

Ashiki

Next Story