×

Kaushambi News: बारिश के पानी ने गाँव वालों का किया हाल-बेहाल, घरों में घुसा पानी, अधिकारियों से रोड ठीक कराने की मांग

Kaushambi News: बारिश हटवा अब्बासपुर के लोगों के लिए जी का जंजाल बन गई है। स्थिति यह है कि लोगों को यह डर सता रहा है कि कहीं इस जलभराव से उनका घर भरभरा कर ना गिर जाए।

Ansh Mishra

Ansh MishraWritten By Ansh MishraPallavi SrivastavaPublished By Pallavi Srivastava

Published on 11 Aug 2021 4:28 AM GMT

Rainfall
X

जलमग्न हुआ हटवा अब्बासपुर गांव pic(social media)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Kaushambi News: उत्तर प्रदेश में बाढ को लेकर तमान व्यवस्थाएं राज्य सरकार द्वारा की जा रही है। वहीं प्रदेश के जिलों में कुछ गांव ऐसे भी हैं जहां बारिश से ही बाढ़ जैसी स्थिति बन जाती है। हम बात कर रहे हैं कौशाम्बी जिले की जहां के लोग खराब सड़कों पर पानी भर जाने व घर गिर जाने को लेकर चिंतित हैं। मामले को लेकर गांव के लोगों ने खंड विकास अधिकारियों के साथ स्थानीय जनप्रतिनिधियों से भी इन्हें ठीक कराए जाने की मांग उठाई। लेकिन गत वर्ष की तरह इस वर्ष भी पूरे गांव में पानी भरा हुआ है।

बता दें कि कौशाम्बी में जहां बारिश से जिले के किसानों में खुशी की लहर है वहीं दूसरी ओर यह बारिश हटवा अब्बासपुर के लोगों के लिए जी का जंजाल बन गई है। स्थिति यह है कि लोगों को यह डर सता रहा है कि कहीं इस जलभराव से उनका घर भरभरा कर ना गिर जाए। यही नहीं गांव के अंदर भरे पानी से लोगों का आना जाना भी दूभर हो रहा है। मामले को लेकर गांव के लोगों ने खंड विकास अधिकारियों के साथ स्थानीय जनप्रतिनिधियों से भी इन्हें ठीक कराए जाने की मांग उठाई। लेकिन गत वर्ष की तरह इस वर्ष भी पूरे गांव में पानी भरा हुआ है।

बताते चलें कि यमुना की तराई में स्थित गांव हटवा अब्बासपुर आजादी के 70 सालों बाद अभी मूलभूत सुविधाओं के लिए तरस रहा है। गांव में हल्की बारिश के बाद पूरा गांव पानी में डूब जाता है जिससे नालों की भरी गंदगी बाहर बहने लगती है। यही नहीं अधिक जलभराव होने से लोगों का आना जाना भी दूभर हो जाता है।

सड़कों पर भरा पानी (सांकेतिक फोटो)(File Photo) pic(social media)

मार्ग को ठीक कराए जाने की मांग

इस बारे में बात करते हुए समाजसेवी कौशलेश द्विवेदी ने बताया कि पूर्व में इसकी शिकायत अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों से की गई थी। लेकिन इसके बाद गांव के रास्तों को ठीक नहीं कराया जा सका था। उन्होंने बताया कि बरसात के पहले भी गांव की स्थिति के बारे में खंड विकास अधिकारी को जानकारी दी गई थी। लेकिन अभी तक सड़क सुधारी नहीं जा सकी और ना ही जल निकासी का रास्ता बनाया जा सका। जिससे गांव में पूरी तरह से पानी भरा हुआ है। उन्होंने कहा कि इस जलभराव से लोगों के घर गिरने का डर है। यदि किसी का घर गिरता है और लोग किसी दुर्घटना का शिकार होते हैं तो इसकी पूरी जिम्मेदारी अधिकारियों की होगी। उन्होंने जिलाधिकारी का ध्यान इस ओर आकृष्ट कराते हुए तत्काल जल निकासी की व्यवस्था कराते हुए मार्ग को ठीक कराए जाने की मांग की है।

Pallavi Srivastava

Pallavi Srivastava

Next Story