×

कौशाम्बी: ताल तलैया बनी नगर की सड़कें, स्कूली छात्र परेशान

चायल नगर पंचायत में जल निकासी के नाम पर करोड़ों खर्च किए जाने के बाद हालात बेहद खराब हैं...

Ansh Mishra

Ansh MishraReport Ansh MishraRagini SinhaPublished By Ragini Sinha

Published on 4 Sep 2021 2:20 PM GMT

X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

कौशाम्बीः नगर पंचायत चायल में विकास कार्यों की सरकारी रकम में जमकर धांधली हो रही है। फर्जी टेंडर, फर्जी कार्यों के नाम पर सरकारी रकम निकालकर जिम्मेदार अधिकारी मालामाल हो रहे हैं। नगर पंचायत में विकास कार्यों में धांधली का खामियाजा नगर की जनता भुगत रही है। चायल नगर की स्थिति इतनी बदतर है कि मुख्य सड़कों पर दो फीट गहरा पानी भरा हुआ है। बारिश होने के कई दिन बाद तक सड़क पर पानी भरा रहता है। स्कूल जाने वाली सड़क के मुख्य मार्ग पर कई दिनों से पानी भरा हुआ है। जल निकासी की समुचित व्यवस्था नगर पंचायत नहीं कर सका है, जबकि जल निकासी के नाम पर नगर पंचायत के जिम्मेदारों ने करोड़ों रुपए का बजट बर्बाद कर दिया है।

अधिषासी अधिकारी ने जल निकासी की समुचित व्यवस्था नहीं की

सड़क पर पानी भरा होने का खामियाजा स्कूली बच्चे भी भुगत है। स्कूल जाने के लिए बच्चों को डेढ़ फीट से 2 फीट तक गहरे पानी भरे रास्ते से निकलना पड़ता है। स्कूली छात्रों को निकालने के लिए स्कूल के अध्यापक छात्रों का हाथ पकड़ कर पानी भरे रास्ते से बाहर निकालते हैं। तमाम दिक्कतों के बीच स्कूली छात्र विद्यालय पहुंच पाते हैं। बार-बार शिकायत के बाद भी अधिषासी अधिकारी ने जल निकासी की समुचित व्यवस्था नहीं की है जिससे नगर वासियों में भारी आक्रोश है।


पानी की निकासी की समुचित व्यवस्था कराए जाने की मांग

नगर की जनता ने शासन प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए जल निकासी के नाम पर किए गए भ्रष्टाचार की जांच कराए जाने स्कूल जाने वाले रास्ते में लगातार भरे पानी की निकासी की समुचित व्यवस्था कराए जाने की मांग की है।

हालत चिंताजनक इस लिहाज से भी हैं क्योंकि उत्तर प्रदेश के तमाम जिलों में इस समय रहस्यमय बुखार का कहर फैला हुआ है। और इस तरह जलभराव रहने से संक्रामक रोगों के फैलने का खतरा बढ़ जाता है।

Ragini Sinha

Ragini Sinha

Next Story