×

Prayagraj Crime News: नहीं मिली नौकरी तो लगा ली फांसी, सुसाइड नोट ने खड़े किए सवाल

बेरोजगारी का दंश झेल रहे बेरोजगार अब आत्महत्या करने को मजबूर हो गए हैं।

suicide
X

आत्महत्या से संबंधित फाइल तस्वीर (फोटो साभार-सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Prayagraj Crime News: बेरोजगारी का दंश झेल रहे बेरोजगार अब आत्महत्या करने को मजबूर हो गए हैं। प्रयागराज में विकास विकास सिंह पुत्र अनिल सिंह नाम के छात्र ने आज फांसी लगाकर अपनी जीवल लीला समाप्त कर ली है। विकास सिंह काफी दिनों से तैयारी कर रहा था। लेकिन नौकरी न मिलने की वजह से वह अब टूट चुका था, जिसके चलते आज उसने फांसी लगा ली। हालांकि उसने मौत से पहले बहुत ही मार्मिक सुसाइड नोट लिखा है, जो इस समय सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है। विकास सिंह के इस सुसाइड नोट को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी रिट्वीट किया है।

विकास सिंह ने साुसइड नोट में लिखा है कि नौकरी न मिलने की वजह से वह आत्महत्या कर रहा है। उसने अपने मां—बाप को संबोधित करते हुए माफी मांगी है कि मैं आपका अच्छा बेटा नहीं बन सकता। विकास सिंह की मौत योगी सरकार के सारे दावे की पोल खोल रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार एक तरफ जहां लाखों बेरोजगारों को नौकरी देने का दावा कर रही है, वहीं बेरोजगार सड़क पर पुलिस की लाठियां खा रहे हैं। दावे और हकीकत के अंतर के बीच बेरोजगार इतने पीस चुके हैं कि अब वह आत्महत्या जैसे कदम उठाने लगे हैं।


बता दें कि नौकरी की मांग को लेकर बेरोजगार रोजाना प्रदर्शन कर रहे हैं। सहायक शिक्षक भर्ती की मांग को लेकर प्रशिक्षु शिक्षकों का प्रदर्शन जारी है। लेकिन सरकार उनकी मांगों को सुनने की जगह प्रदर्शनकारियों पर डंडे चलवा रही है। विपक्ष भी बेरोजगारों के मुद्दे पर सरकार को घेरने में लगी हुई है। पूर्व मुख्यमंत्री ने विकास सिंह के सुाइड नोट को रिट्वीट करके यह दिखाने की कोशिश की है कि प्रदेश सरकार के दावे और हकीकत में बड़ा फर्क है। ऐसे में सवाल यह भी उठता है कि क्या तैयारी कर रहे छात्रों को नौकरी की जगह अब अत्महत्या करना पड़ेगा।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story