×

Prayagraj News: प्रयागराज में भी पकड़ा गया 'मुन्ना भाई', UP-TET की परीक्षा में दूसरे की जगह दे रहा था पेपर

एसटीएफ की प्रयागराज यूनिट को मुखबिर से सूचना मिली थी कि टीईटी की प्रथम पाली में शिवबालक सिंह इंटर कॉलेज नैनी में किसी दूसरे के स्थान पर साल्वर गैंग ने एक कैंडिडेट बैठा रखा है।

Syed Raza
Updated on: 23 Jan 2022 4:38 PM GMT
Prayagraj News
X
UP-TET Exam की प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो:सोशल मीडिया)
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Prayagraj News: उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UP-TET) 2021 की प्रथम पाली में हो रही प्राइमरी लेवल की परीक्षा में प्रयागराज से भी एक मुन्ना भाई पकड़ा गया है। पकड़ा गया आरोपी विजय बहादुर सरोज पुत्र सट्टा राम, निवासी मीठीपार थाना सिकरारा जौनपुर का रहने वाला है। स्पेशल टास्क फोर्स ने औद्योगिक थाना क्षेत्र नैनी के शिवबालक सिंह इंटर कॉलेज (shiv balak singh inter college prayagraj) में अचानक छापा मारा। छापे में विजय बहादुर दूसरे की जगह परीक्षा देता पाया गया। उसका प्रवेश पत्र भी फर्जी था। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

दूसरे की जगह परीक्षा दे रहा था साल्वर

एसटीएफ की प्रयागराज यूनिट को मुखबिर से सूचना मिली थी कि टीईटी की प्रथम पाली में शिवबालक सिंह इंटर कॉलेज नैनी में किसी दूसरे के स्थान पर साल्वर गैंग ने एक कैंडिडेट बैठा रखा है। इस सूचना के आधार पर एसटीएफ फील्ड इकाई प्रयागराज के उपनिरीक्षक धर्मेंद्र सिंह, आरक्षी रोहित सिंह , अजय सिंह, पंकज तिवारी, पुनीत पांडे, आरक्षी चालक रविकांत सिंह ने इस सेंटर पर छापा मारा।

चेकिंग के दौरान पता चला कि शिवबालक सिंह इंटर कॉलेज थाना औद्योगिक क्षेत्र में साल्वर रुपये लेकर मूल अभ्यर्थी के स्थान पर परीक्षा दे रहा है। प्रधानाचार्य नरेंद्र सिंह के साथ जब चेक कराया गया तो मूल अभ्यर्थी दीपक कुमार पुत्र दिनेश कुमार निवासी ग्राम विट्ठलपुर, केवाई बुजुर्ग, थाना सराय ममरेज, प्रयागराज के स्थान पर विजय बहादुर पुत्र सट्टा राम परीक्षा दे रहा है।

UP-TET परीक्षा की तस्वीर (फोटो:सोशल मीडिया)

35 हजार रुपये में साल्वर ने लिया था ठेका

पुलिस उपाधीक्षक नवेंदु कुमार ने बताया कि गिरफ्तार किए गए अभियुक्त से जब पूछताछ की गई तो उसने बताया कि वह सलोरी में रहकर विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करता है। वह मनोज पासी के लॉज में किराए का कमरा लेकर रहता है। उसी मोहल्ले में रहकर मूल अभ्यर्थी दीपक कुमार भी बीटीसी करने के बाद टीईटी की तैयारी करता था।

दीपक ने उसे रुपयों का लालच देकर इस परीक्षा के लिए फर्जी आधार कार्ड, प्रवेश पत्र तैयार कराया था। इसके अलावा 35000 रुपये में दीपक की जगह परीक्षा देने की बात तय हुई थी। उसे बतौर 5000 एडवांस भी मिल चुका है। शेष 30 हजार रुपये परीक्षा पास होने के बाद देने की बात तय थी। फिलहाल उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Divyanshu Rao

Divyanshu Rao

Next Story