×

Kashi vishwanath Corridor: लोकार्पण समारोह के लिए भाजपा ने झोंकी पूरी ताकत, सीएम योगी आज परखेंगे तैयारियां

Kashi vishwanath corridor inauguration: काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण को बिग शो बनाने के लिए भाजपा (BJP) की ओर से जोर शोर से तैयारियां की जा रही है।

Anshuman Tiwari

Written By Anshuman TiwariPublished By Monika

Published on 5 Dec 2021 6:21 AM GMT

CM Yogi Adityanath
X

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ: फोटो- न्यूजट्रैक 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Kashi vishwanath corridor inauguration: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi ka daura) के 13 दिसंबर से प्रस्तावित दो दिवसीय काशी (Kashi) दौरे को कामयाब बनाने के लिए भाजपा ने पूरी ताकत झोंक दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों 13 दिसंबर को काशी विश्वनाथ धाम (Kashi Vishwanath Dham ) के लोकार्पण के बाद एक महीने तक दिव्य काशी-भव्य काशी अभियान चलेगा और इसे कामयाब बनाने के लिए प्रशासन के साथ भाजपा कार्यकर्ता भी जुटेंगे।

काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण को बिग शो बनाने के लिए भाजपा (BJP) की ओर से जोर शोर से तैयारियां की जा रही है। पीएम मोदी के दौरे की तैयारियों की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज काशी पहुंचेंगे (CM Yogi aaj Kashi mein)। इस दौरान वे बनारस रेल कारखाना में प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक के बाद उमरहा का भी दौरा करेंगे।

कार्यकर्ताओं को सौंपी जिम्मेदारी

काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण और एक महीने तक चलने वाले आयोजनों को सफल बनाने के लिए भाजपा ने कमर कस ली है। प्रदेश सह प्रभारी सुनील ओझा का कहना है कि 25-25 कार्यकर्ताओं की टीम बनाकर प्रशासनिक अधिकारियों के साथ समन्वय स्थापित करने को कहा गया है। भाजपा पदाधिकारियों ने इस सिलसिले में जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक भी की है। प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के जरिए बड़ा सियासी संदेश देने की कोशिश में जुटी हुई है। यही कारण है कि पार्टी की ओर से कार्यक्रम को कामयाब बनाने के लिए कार्यकर्ताओं की फौज लगा दी गई है।

तैयारियों को परखेंगे सीएम योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) जी आयोजन की तैयारियों पर गहरी नजर रख रहे हैं। इस सिलसिले में की जा रही तैयारियों की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री योगी आज काशी पहुंचेंगे। प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक के अलावा मुख्यमंत्री योगी बनारस रेल कारखाना में प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) के रात्रि प्रवास और अन्य कार्यक्रमों की तैयारियों का जायजा भी लेंगे। मुख्यमंत्री स्वर्वेद महामंदिर भी जाएंगे जहां प्रधानमंत्री को 14 दिसंबर को आयोजित वार्षिकोत्सव समारोह में हिस्सा लेना है।

प्रशासनिक सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री पीएम मोदी के दो दिवसीय काशी प्रवास और दिव्य काशी-भव्य काशी अभियान पर अधिकारियों के साथ चर्चा करेंगे। इस बैठक में प्रधानमंत्री के दो दिवसीय काशी प्रवास की पूरी रूपरेखा तैयार की जाएगी।

जानकारों का कहना है कि काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण से पहले मुख्यमंत्री वाराणसी में काम करने की तैयारी भी कर रहे हैं। 5 दिसंबर की बैठक के बाद मुख्यमंत्री के काशी प्रवास की तिथि भी तय होगी। वैसे जानकारों के मुताबिक मुख्यमंत्री के 9 दिसंबर से 14 दिसंबर तक काशी में रहने की जानकारी मिली है।

संतों के साथ संवाद भी करेंगे पीएम मोदी

पीएम मोदी 13 दिसंबर को काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण कार्यक्रम में मुख्य यजमान के रूप में मौजूद रहेंगे। काशी विश्वनाथ धाम में पूजा अनुष्ठान के बाद पीएम मोदी मंदिर चौक पर संतों से संवाद करेंगे। इसके साथ ही 13 दिसंबर की शाम को पीएम मोदी बनारस रेल कारखाना में काशी के प्रबुद्ध जनों से संवाद करेंगे। वे पार्टी की ओर से आयोजित राष्ट्रीय स्तर की बैठक में भी हिस्सा लेंगे। बनारस रेल कारखाना में रात्रि प्रवास के बाद अगले दिन पीएम मोदी सुबह काशी विश्वनाथ धाम में दोबारा बाबा विश्वनाथ का दर्शन पूजन करेंगे और इसके बाद वे भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों और उपमुख्यमंत्रियों को संबोधित करेंगे।

13 दिसंबर को काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के अलावा प्रधानमंत्री मोदी 14 दिसंबर को स्वर्वेद महामंदिर मैं आयोजित वार्षिकोत्सव में भी हिस्सा लेंगे। पीएम मोदी काशी विश्वनाथ धाम में भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों व उपमुख्यमंत्रियों के सम्मेलन को संबोधित करने के बाद दोपहर में स्वर्वेद महामंदिर पहुंचेंगे। विहंगम योग के कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद प्रधानमंत्री मोदी बाबतपुर एयरपोर्ट से दिल्ली रवाना होंगे।

हिंदुत्व के एजेंडे को धार देने की कोशिश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का प्रस्तावित वाराणसी दौरा सियासी नजरिए से भी काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। काशी विश्वनाथ कॉरिडोर पीएम मोदी और भाजपा का बड़ा एजेंडा रहा है। अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास के बाद भाजपा काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के जरिए एक बड़ा सियासी संदेश देने की कोशिश में जुटी हुई है।

माना जा रहा है कि इस कार्यक्रम के जरिए पार्टी हिंदुत्व के एजेंडे की धार को और मजबूत बनाने में कामयाब हो सकती है। यही कारण है कि पार्टी और प्रदेश सरकार की ओर से इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए पूरी ताकत झोंक दी गई है।

taja khabar aaj ki uttar pradesh 2021, ताजा खबर आज की उत्तर प्रदेश 2021

Monika

Monika

Next Story