Top

QED के SP में विलय की प्रक्रिया अब तक नहीं हुई शुरू, क्या होगा मर्जर ?

By

Published on 23 Jun 2016 12:50 PM GMT

QED के SP में विलय की प्रक्रिया अब तक नहीं हुई शुरू, क्या होगा मर्जर ?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: सपा के यूपी प्रभारी और कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने भले ही कौमी एकता दल (कौएद) के सपा में विलय की घोषणा कर दी हो लेकिन हकीकत में देखा जाए तो अब तक कौमी एकता दल के सपा में विलय की प्रक्रिया ही शुरू नहीं हो पाई है। इस वजह से भी विलय को लेकर सियासी गलियारों में इसे संशय की दृष्टि से देखा जा रहा है।

विधानसभा सचिवालय सूत्रों की मानें तो अभी तक कौमी एकता दल के सपा में विलय से संबंधित कोई भी पत्र नहीं आया है। उनका साफ कहना है कि अभी तक इस तरह की कोई भी प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है।

अखिलेश ने किया साफ, मुलायम का निर्णय सबको होगा मान्य

सीएम अखिलेश यादव की नाराजगी की खबरों के बाद से अब तक कौमी एकता दल के सपा में विलय को लेकर संशय बरकरार है। हालांकि राज्य मंत्रिमंडल की बैठक के बाद सीएम अखिलेश ने बयान देकर यह साफ कर दिया है कि सपा मुखिया मुलायम सिंह का निर्णय सबको मान्य होगा।

यह भी पढ़ें ... NEWZTRACK की खबर पर मुहर, SP-QED विलय अभी रुका, 25 को फैसला

दो राजनीतिक दलों के मर्जर का क्या है नियम ?

पूर्व एमएलसी और बीजेपी नेता हृदय नारायण दीक्षित के मुताबिक जब किसी पार्टी का दूसरी पार्टी में विलय होता है तो उस पार्टी के विधायक विधानसभा अध्यक्ष को यह पत्र लिखकर देते हैं कि उनकी पार्टी का दूसरी पार्टी में पूरी तरह विलय हो गया है और उन्हें उसी पार्टी का विधायक माना जाए।

दीक्षित का कहना है कि यदि पार्टी मान्य है और उसका चुनाव चिन्ह है तो फिर पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष निर्वाचन आयोग को पत्र लिखेगा कि उसकी पार्टी का दूसरी पार्टी में पूरी तर​ह विलय हो गया है और वह अब उसी के चुनाव चिन्ह पर चुनाव लड़ेगी।

Next Story