Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

ऐसे होता है विकास, 5 सालों में बदल दी रायबरेली के प्रधान ने गांव की तस्वीर

उन्होंने अपनी कार्य योजना के अंतर्गत 40 प्रधानमंत्री आवास गरीबों को दिलवाए है। 112 लोगों को पेंशन और गांव में 4 किलोमीटर इंटरलॉकिंग का कार्य कराया।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 23 Feb 2021 9:22 AM GMT

ऐसे होता है विकास, 5 सालों में बदल दी रायबरेली के प्रधान ने गांव की तस्वीर
X
ऐसे होता है विकास, 5 सालों में बदल दी रायबरेली के प्रधान ने गांव की तस्वीर (PC: social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रायबरेली: पंचायत चुनाव की सुगबुगाहट तेज हो चली है। प्रधान पद के लिए दावेदार सुबह-शाम गांवो में अपने-अपने दावे भी कर रहे हैं। इस सबके बीच अमावा विकास खंड गढ़ी खास के प्रधान लक्ष्मीकांत अध्यक्ष क्षेत्र में चर्चा का विषय बने हुए हैं। प्रधान संघ के अध्यक्ष तक रहे लक्ष्मीकांत ने पांच साल के कार्यकाल में क्षेत्र में विकास की गंगा बहाई है।

ये भी पढ़ें:सभी के लिए प्रेरणा बन रही सिद्धार्थनगर की गुंजन चौरसिया, बोलने-सुनने में हैं असमर्थ

उन्होंने अपनी कार्य योजना के अंतर्गत 40 प्रधानमंत्री आवास गरीबों को दिलवाए है

उन्होंने अपनी कार्य योजना के अंतर्गत 40 प्रधानमंत्री आवास गरीबों को दिलवाए है। 112 लोगों को पेंशन और गांव में 4 किलोमीटर इंटरलॉकिंग का कार्य कराया। एक किलोमीटर खड़ंजा मार्ग का भी निर्माण कराया है और दो किलोमीटर तक नाली भी बनवाई। यही नही 700 मीटर नाले का भी निर्माण कार्य उनके द्वारा कराया गया है।

ये भी पढ़ें:केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान बोले- अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल महंगा, इसलिए पेट्रोल-डीजल की कीमत बढ़ी

इसके अतिरिक्त एक बहुउद्देशीय विद्यालय का भी निर्माण प्रधान द्वारा कराया गया। उन्होंने कायाकल्प के द्वारा एक पंचायत भवन का निर्माण 17 लाख की लागत से कराया। गांव में करीब 350 लोगों को शौचालय भी दिलाया और एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भी बनवाया है। क्षेत्र में उजियारा लानें के लिए 100 स्ट्रीट लाइटें भी लगाई गई है। पानी की समस्या से निजात दिलाने के लिए 40 हैंडपंप भी ग्रामसभा को दिए। और एक करोड़ की लागत से मनरेगा का कार्य भी किया। उन्होंने कहा कि करोड़ों की लागत से कार्य कराया है, जनता हमें दुबारा मौका देगी तो फिर हम गांव को चमकाने का काम करेंगे और हमारे गांव में कोई भी गरीब नहीं बचेगा।

रिपोर्ट- नरेंद्र सिंह

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story