Top

राहुल के करीबी ने सोनिया के प्रतिनिधि को बताया कालेधन का कारोबारी

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 18 July 2016 3:34 AM GMT

राहुल के करीबी ने सोनिया के प्रतिनिधि को बताया कालेधन का कारोबारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: अमेठी में राहुल गांधी के करीबी कहे जाने वाले कांग्रेसी नेता ने सोनिया गांधी के प्रतिनिधि और राष्ट्रीय कांग्रेस के सचिव किशोरी लाल शर्मा पर काले धन के कारोबार का आरोप लगाते हुए पीएम मोदी से गुहार लगाईं है। राहुल के करीबी नेता राजेश कुमार पाण्डेय ने पीएम को लिखे पत्र में बताया कि उनके पास केएल शर्मा से जुड़े सुबूत हैं। जिसकी जांच सीबीआई या ईडी से करवाई जाए। उन्होंने कहा कि अगर पीएम उन्हें सुरक्षा देने को तैयार हों तो वे इसे जांच एजेंसी को सौंपने को तैयार हैं।

राजेश पाण्डेय का यह भी आरोप है कि सांसद सोनिया गांधी के करीबी और रायबरेली प्रतिनिधि नेता केएल शर्मा उनके निजी जीवन में कई वर्षों से दखलंदाजी कर उन्हें परेशान और ब्लैकमेल कर रहे हैं। वे और मुंह खोलने पर जान माल और बर्बाद करने की धमकी दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें... जेटली बोले- 30 सितंबर तक करें कालाधन की घोषणा, गोपनीय रखेंगे जानकारी

पीएम मोदी को लिखे पत्र में राजेश पाण्डेय ने आरोप लगाया है कि किशोरी लाल शर्मा काला धन के कारोबार में लिप्त हैं। इसीलिए वे अक्सर विदेशी यात्राएं किया करते हैं। उनके खिलाफ सीबीआई या ईडी द्वारा जांच करवाई जाए। सोनिया गांधी के रायबरेली प्रतिनिधि के बारे में राजेश पाण्डेय ने राहुल गांधी से भी शिकायत की है लेकिन इसका भी कोई नतीजा नहीं निकला।

राष्ट्रीय अस्मिता से जुड़ा है मामला

केएल शर्मा और आरोप लगाने वाले राजेश पाण्डेय ने बताया कि पूरा प्रकरण राष्ट्रीय अस्मिता से जुड़ा है। इन बातों का खुलासा करने पर मेरी जान माल का ख़तरा बढ़ जाएगा। इसलिए अगर मेरी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम हों तो मैं उनके द्वारा की गई करतूतों से पर्दा उठाउंगा।

एक हफ्ते से ज्यादा का समय हो गया लेकिन नहीं मिला कोई जवाब

राजेश कुमार पाण्डेय ने बताया कि मैंने पीएम के अलावा राज्यपाल, सीएम, डीजीपी, आईजी, डीआईजी और एसएसपी सभी को पत्र लिखा लेकिन किसी भी तरफ से कोई जवाब नहीं आया। उन्होंने कहा कि काले धन के मामले में मोदी सरकार से काफी उम्मीदें थी, लेकिन अभी तक कोई जवाब नहीं आया।

अमेठी में राहुल के करीबी माने जाते हैं राजेश

राजेश पाण्डेय ने बताया कि राहुल गांधी जब भी अमेठी आते हैं तो उन सबसे मुलाक़ात और बात चीत होती है। राजेश ने बताया कि राहुल गांधी से उन्होंने बीते 19 फ़रवरी को अपनी बात कही थी और यह भी रिक्वेस्ट की थी कि आप मुझे और किशोरी लाल शर्मा को आमने-सामने बिठा दीजिये, जिससे अगर मेरी गलती हो तो जो सजा दें वह मंजूर लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इसलिए अब मजबूर होकर मुझे यह कदम उठाना पड़ रहा है।

Newstrack

Newstrack

Next Story