Top

मेंढकी गांव से है राहुल का पुराना नाता, इंदिरा गांधी के लिए था लकी

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 23 Jan 2016 8:28 AM GMT

मेंढकी गांव से है राहुल का पुराना नाता, इंदिरा गांधी के लिए था लकी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

झांसी. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बीते शनिवार को बुंदेलखंड का दौरा किया। वो यहां सूखे का जायजा लेने के लिए आए थे। राहुल गांधी मेंढकी गांव में अपनी दादी इंदिरा गांधी की मूर्ति का भी अनावरण भी किया, क्योंकि इस गांव का गांधी परिवार से खास कनेक्शन है। इस गांव को इंदिरा गांधी अपने लिए काफी लकी मानती थीं। आइए आपको बताते हैं कि आखिर क्यों राहुल ने चुना है ये गांव...

* इंदिरा गांधी आंध्र प्रदेश के मेडक से जनवरी 1980 में चुनाव जीतकर दूसरी बार देश की प्रधानमंत्री बनी थीं।

* कुछ वक्त बाद उन्हें पता चला कि यूपी में भी इस नाम से मिलता-जुलता एक गांव है।

* बुंदेलखंड में झांसी से 60 किमी. दूर एक मेंढकी गांव है।

* 5 मार्च 1980 को उन्होंने इस गांव का दौरा किया था।

* उस दौरान उन्होंने कहा था कि इस गांव का नाम उनके लिए काफी लकी है।

* ये गांव बुंदेलखंड के बड़े लोक कवि ईसुरी का जन्मस्थान है।

* ये जानने के बाद इंदिरा गांधी की यहां आने की इच्छा और ज्यादा बढ़ी थी।

* इंदिरा गांधी ने गांव के लोगों से काफी बातचीत की थी।

* उन्होंने आसपास के कुछ और इलाकों का दौरा भी किया था

Newstrack

Newstrack

Next Story