×

पहाड़ में बारिश, मैदान हुआ पानी ही पानी, सैकडों यात्री फंसे

पर्वतीय क्षेत्रों में बीती देर रात से हो रही झमाझम बारिश मैदानी क्षेत्रवासियों के लिए आफत बन गई है। पहाड़ों में हो रही बारिश का पानी आने से

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 23 Sep 2017 8:31 AM GMT

पहाड़ में बारिश, मैदान हुआ पानी ही पानी, सैकडों यात्री फंसे
X
पहाड़ में बारिश, मेला परिसर में पानी ही पानी, सैकडों यात्री फंसे
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

सहारनपुर: पर्वतीय क्षेत्रों में बीती देर रात से हो रही झमाझम बारिश मैदानी क्षेत्रवासियों के लिए आफत बन गई है। पहाड़ों में हो रही बारिश का पानी मैदानी इलाके में आने से जिले की बरसाती नदियां पूरी तरह से उफान पर है। प्राचीन ऐतिहासिक सिद्धपीठ मां शाकंभरी देवी का मेला भी इस उफान की भेंट चढ़ गया। अचानक पानी आने से सैकड़ों यात्री पानी में फंस गए हैं।

यह भी पढ़ें…शामली: ‘ब्लू व्हेल गेम’ का टास्क पूरा करने में छात्र ने दी जान, रेलवे ट्रेक पर मिला शव

ज्ञात हो कि इन दिनों प्राचीन सिद्धपीठ मां शाकंभरी देवी तीर्थ में शारदीय नवरात्र मेला चल रहा है। रोजाना की तरह भक्तजन तीसरे नवरात्र पर मां के दर्शन करने के लिए आए थे, लेकिन पर्वतीय क्षेत्र में देर रात से हो रही बारिश के कारण शाकंभरी घाटी में अचानक पानी का तेज बहाव आ गया, जिस कारण सैकडों यात्री जहां तहां फंस गए।

पानी का बहाव इतना तेज था कि करीब तीन फीट तक मेला परिसर में पानी ही पानी हो गया और मेला पूरी तरह से उजड सा गया। मेले में लगी दुकाने क्षतिग्रस्त होने के साथ ही यात्रियों के वाहन भी पानी में फंस गए। यात्रियों को पहाड़ और उंचाई पर बने आश्रम और मंदिरों में पहुंचकर अपनी जान बचानी पडी।

यह भी पढ़ें…यूपी : दशहरा और मोहर्रम पर 35 जिले अतिसंवेदनशील घोषित

इसके अलावा जनपद की सभी बरसाती नदियां पूरी तरह से उफान पर है। दिल्ली-यमुनोत्री हाईवे पर पंजना नदी में भारी मात्रा में पानी आने के कारण कई गांव का तहसील बेहट से संपर्क टूट गया है।

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story