पीडब्ल्यूडी गोलीकांड का खुलासा, पुलिस ने बताया कैसे हुई थी अभियुक्त की हत्या

यूपी के शाहजहांपुर में चर्चित ठेकेदार हत्याकांड के मामले मे पुलिस ने मुख्य आरोपी को रायफल समेत गिरफ्तार किया है। हत्या की साजिश रचने के बाद आरोपी विदेश चला गया था।

शाहजहांपुर: यूपी के शाहजहांपुर में चर्चित ठेकेदार हत्याकांड के मामले मे पुलिस ने मुख्य आरोपी को रायफल समेत गिरफ्तार किया है। हत्या की साजिश रचने के बाद आरोपी विदेश चला गया था।

हालांकि पुलिस ने बारीकी से जांच करने के बाद घटना का खुलासा करते हुए पांच लोगों को गिरफ्तार करके पहले जेल भेज दिया था। लेकिन मुख्य आरोपी साजिश रचने के बाद बैंकाॅक चला गया था।

पुलिस ने 25 हजार का इनाम भी घोषित कर दिया था। फिलहाल विदेश से वापस लौटने के बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

दरअसल 2 दिसम्बर को थाना सदर बाजार के पीडब्ल्यूडी दफ्तर के अंदर ठेकेदार राकेश यादव की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी। ठेकेदार के गनर को भी गोली लगी थी। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया था।

ये भी पढ़ें…यूपी: शाहजहांपुर से स्वामी चिन्मयानंद हुए गिरफ्तार, यौन शोषण का आरोप

हत्या के पीछे पुरानी रंजिश

घटना के बाद पुलिस और प्रशासन मे हङकंप मच गया था। पुलिस ने घटना की बारीकी से जांच की तो घटना के पीछे पुरानी रंजिश सामने आई थी। पुलिस ने जांच की रफ्तार तेज करते हुए कटिया टोला निवासी अभय राज समेत सात लोगों पर मुकदमा दर्ज किया था।

दरअसल इस घटना के पीछे पुरानी रंजिश बताई गई। आरोपी अभय राज ने ठेकेदार राकेश यादव की हत्या की साजिश शाहजहांपुर मे रची थी। हत्या करने के लिए बाहर शूटर बुलाए गए थे। उनको ठेकेदार की हत्या के लिए बीस लाख रूपये की सुपारी दी गई थी।

पुलिस ने जांच का दायरा बढ़ाते हुए कुछ ठेकेदारों से पूछताछ की तो कुछ चौकाने वाले खुलासे हुए। पुलिस ने दो शूटरों समेत पांच लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

जिसमें मुख्य आरोपी मां भी शामिल थी। लेकिन घटना की साजिश रचने के बाद मुख्य आरोपी अभय राज बैंकाॅक चला गया था। जिसके बाद पुलिस मुख्य आरोपी के भारत आने का इंतजार करने लगी।

शाहजहांपुर केस: BJP नेता स्वामी चिन्मयानंद पर लगे यौन उत्पीड़न आरोपों की जांच के लिए बनी SIT

बैंकाॅक भाग गया था साजिशकर्ता

एसपी एस चिनप्पा का कहना है कि घटना की साजिश रचने के बाद अभय राज बैंकाॅक चला गया था। उसके बाद पुलिस ने एंबेसी से बात की थी। लेकिन पुलिस को चकमा देने के लिए आरोपी ने चार दिन पहले ही दिल्ली का टिकट कैंसिल करने के बाद वह काठमांडू पहुंचा।

वहां से धनगङी आया और उसके बाद शाहजहांपुर आया। यहां से उसे गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी पर 25 हजार का इनाम घोषित किया था। उसको जेल भेज दिया है।

वही मुख्य आरोपी अभय राज ने पुलिस को बताया कि उसके पिता और चाचा की पुरानी रंजिश ठेकेदार के परिवार से चलती आ रही थी। मेरे पिता और चाचा की मौत के जिम्मेदार ठेकेदार राकेश यादव थे। इसलिए बदला लेने के लिए उसकी हत्या कराई है।

ये भी पढ़ें…शाहजहांपुर: हाईवे पर ट्रक से डीजल चुराने वाले गिरोह का बड़ा खुलासा, चार-चोर गिरफ्तार

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App