Top

ब्रह्मराक्षस में जल्द होगी रक्षंदा खान का एंट्री, जल्द आएगा ट्विस्ट

By

Published on 4 Aug 2016 2:28 PM GMT

ब्रह्मराक्षस में जल्द होगी रक्षंदा खान का एंट्री, जल्द आएगा ट्विस्ट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : एकता कपूर के नए शो ‘ब्रह्मराक्षस- जाग उठा शैतान’ के साथ रक्षंदा खान ने दोबारा टेलीवुड में एंट्री मारी है। छोटे पर्दे की इस अभिनेत्री ने फेमस सीरियल ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ में अपने अभिनय से नई पहचान बनाई थी। लगभग तीन सालो का ब्रेक लेने के बाद टेलीविजन में वापसी कर रही है। रक्षंदा खान बुधवार को शो के प्रमोशन के लिए लखनऊ पहुंची।

दर्शको पर अपना जादू चलने को है तैयार

लखनऊ के होटल ताज में अपने शो को प्रोमोट कर रही रक्षंदा खान के मुताबिक फेंटेसी क्रीचर ब्रह्मराक्षस किसी भी दूसरे शो के मुकाबले बिलकुल अलग है। उनका कहना है कि ब्रह्मराक्षस रोमांच रहस्य और फैंटेसी का पूरा पैकेज होने की वजह से हर वर्ग की ऑडियन्स को बांध कर रखेगा। ऐसे में 6 अगस्त से हर वीकेंड पर ब्रह्मराक्षस दर्शको पर अपना जादू चलने के लिए तैयार है।

बहुत समझदार है आज की पीढ़ी

टेलीवुड में इन दिनों हॉरर शो के साथ-साथ नागिन नाग और कई दूसरे जानवरो की सुपर पॉवर का बोलबाला है। लेकिन रक्षंदा मानती है कि ब्रह्मराक्षस इन सब से बिलकुल अलग सीरियल है जो रहस्य बनाए रखेगा। टीवी ट्रेंड के जरिये अंधविश्वास फैलाने की बात को नकारते हुए रक्षंदा का मानना है की आज की पीढ़ी बहुत समझदार है और कोई भी नया सीरियल परोस कर युवाओ के दिमाग में कोई बात बसाई नही जा सकती। हालांकि खुद को डरपोक बताते हुए रक्षंदा दुनिया में अच्छी और बुरी ताकत होने की बात से इंकार नहीं कर पाई ।

चिकनकारी की है शौकीन

बॉलीवुड से लेकर टेलीवुड तक के कलाकार लखनऊ आए और कबाब का जायका उन्हें अमीनाबाद और चौक न ले जाए यह कैसे हो सकता है। लेकिन पठान फॅमिली की बेटी और त्यागी परिवार की बहु रक्षंदा खान शुद्ध शाकाहारी है। लखनऊ को दिल से पसंद करने वाली रक्षंदा जब भी लखनऊ आई उनकी पसंदीदा हजरतगंज की आलू टिक्की ने ही उनका जायका बढ़ाया है। चिकनकारी की शौकीन रक्षंदा को कबाब नही बल्कि चिकन की खूबसूरत कलाकारी चौक की गलियो तक खींच कर ले जाती है।

Next Story