दीपोत्सव: अबकी बार पुष्पक विमान से राम-लक्ष्मण आयेंगे अयोध्या, ये है पूरा कार्यक्रम

शासन से मिली जानकारी के अनुसार 26 अक्टूबर को पूर्वाह्न 10 बजे वनवास से लौटे भगवान श्रीराम और उनके सहयोगियों पर केंद्रित रामकथा की ‘झांकी’ साकेत महाविद्यालय से प्रारंभ होकर मुख्य कार्यक्रम स्थल राम कथा पार्क तक जाएगी।

फ़ाइल फोटो

फ़ाइल फोटो

लखनऊ: मुख्य सचिव के दौरे के 24 घंटे बाद उत्तर प्रदेश शासन ने अयोध्या में होने वाले दीपोत्सव का आधिकारिक कार्यक्रम बुधवार को जारी कर दिया।

शासन से मिली जानकारी के अनुसार 26 अक्टूबर को पूर्वाह्न 10 बजे वनवास से लौटे भगवान श्रीराम और उनके सहयोगियों पर केंद्रित रामकथा की ‘झांकी’ साकेत महाविद्यालय से प्रारंभ होकर मुख्य कार्यक्रम स्थल राम कथा पार्क तक जाएगी।

भगवान श्रीराम, माता सीता और अनुज लक्ष्मण के स्वरूप को लेकर पुष्पक विमान से अयोध्या में सरयू तट पर उतरेंगे। हेलीकॉप्टर से पूरी अयोध्या में पुष्पवर्षा की जाएगी। इसी के साथ दीपोत्सव कार्यक्रम विधिवत शुरू हो जाएगा।

फ़ाइल फोटो

ये भी पढ़ें…अयोध्या में इस साल भी मनाएंगे भव्य दीपोत्सव- योगी आदित्यनाथ

रामकथा पार्क में प्रभु राम का राज्याभिषेक किया जाएगा। यहीं पर अयोध्या की जनता के साथ संवाद के बाद भगवान राम, माता सीता व अनुज लक्ष्मण के साथ साधु संत, ऋषि मुनि, मुख्य अतिथि, राज्यपाल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपनी समस्त कैबिनेट के साथ उपस्थित रहेंगे।

दूरदर्शन से कार्यक्रम का होगा सीधा प्रसारण

इनके अलावा अन्य गणमान्य नागरिक और जनमानस सरयू घाट पहुंचकर सरयू की आरती करेंगे और दीपों को प्रकाशमय किया जाएगा।

इसी समय सरयू नदी के उस पार जनपद गोंडा की तरफ आतिशबाजी होगी। आतिशबाजी के इस अद्भुत नजारे को देश-विदेश का मीडिया लाइव प्रसारित कर सकेगा। दूरदर्शन में सूचना विभाग के लिंक से सीधा प्रसारण होगा।

दीपोत्सव कार्यक्रम का सूचना विभाग एलईडी और डिस्प्ले बोर्ड के माध्यम से अयोध्या के प्रमुख स्थलों पर लाइव प्रसारण करेगा।  शासन ने बेसिक शिक्षा विभाग के प्राथमिक उच्च प्राथमिक विद्यालयों और इंटर कॉलेजों में दीये रोशन करने के निर्देश जारी किए गए हैं।

अयोध्या के सभी थानों एवं पुलिस चौकियों में भी दीपक जलाए जाएंगे।  संत, महात्मा, व्यापारी संगठन, सभासद, पार्षद, एनजीओ, पेट्रोलियम एसोसिएशन, रोटरी क्लब, लायंस क्लब सहित सभी संगठन 26 अक्टूबर को प्रमुख स्थलों और चौराहों पर भी दीप प्रज्ज्वलित किए जाएंगे।

24, 25 और 26 अक्टूबर को अयोध्या में 11 स्थानों पर सांस्कृतिक कार्यक्रम और रामलीला की प्रस्तुति की जाएगी।

ये भी पढ़ें…राम मंदिर विवाद: जानिए कब दायर हुआ था पहला मुकदमा, अयोध्या में लगी धारा 144