×

Rajya Sabha Polls 2022: RLD चीफ जयंत चौधरी ने राज्य सभा के लिए भरा नामांकन, अखिलेश यादव भी रहे मौजूद

राज्यसभा के लिए प्रदेश की 11 सीटों पर हो रहे चुनाव के नामांकन 31 मई तक दाखिल किए जा सकेंगे। एक जून को नामांकन पत्रों की जांच होगी और 3 जून तक नाम वापस लिए जा सकेंगे।

Shreedhar Agnihotri
Updated on: 2022-05-30T12:49:31+05:30
rld chief jayant chaudhary filed nomination for rajya sabha elections 2022 akhilesh yadav present
X

Rld Chief Jayant Chaudhary (Photo- Ashutosh Tripathi)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Jayant Choudhary Rajya Sabha Nomination : उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में रिक्त हो रही 11 सीटों के लिए चल रही। नामांकन प्रक्रिया (Jayant Chaudhary Rajya Sabha Nomination) के बीच सोमवार को समाजवादी पार्टी-राष्ट्रीय लोकदल (Samajwadi Party-Rashtriya Lok Dal) के संयुक्त प्रत्याशी RLD अध्यक्ष जयंत चौधरी ने अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। इस मौके पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) समेत दोनों दलों के कई नेता उपस्थित थे।

इससे पहले कांग्रेस छोड़ने वाले सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता और राजनीतिज्ञ कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) ने निर्दलीय प्रत्याशी (Independent Candidate) के तौर पर अपना नामांकन दाखिल किया। उन्हें सपा का समर्थन मिल रहा है, जबकि जावेद अली (Javed Ali) ने सपा प्रत्याशी (SP candidate) के तौर पर पर्चा दाखिल किया है।


10 जून को होंगे मतदान

उल्लेखनीय है, कि राज्यसभा की 11 सीटों के लिए नामांकन का काम जारी है, जो 31 मई तक चलेगा। इसके बाद 10 जून को इन सीटों के लिए मतदान होगा। राज्यसभा की 11 सीटों पर होने वाले चुनाव में भाजपा को 8 और सपा को 3 सीटें मिलना तय है। विधानसभा में भाजपा गठबंधन के 273 और सपा गठबंधन के 125 विधायक हैं। कांग्रेस के दो और बसपा का एक वोट है। वह इस चुनाव में अपना कंडीडेट नहीं खड़ा कर सकेगी। जनसत्ता दल लोकतांत्रिक और कांग्रेस के दो-दो तथा बसपा का एक विधायक है। जनसत्ता दल के दो विधायकों का समर्थन भाजपा को मिल सकता है। जबकि कांग्रेस और बसपा का किसी भी दल से गठबंधन नहीं होने से दोनों दल चुनाव से बाहर रह सकते है।


3 जून तक नाम वापस लिए जा सकते हैं

राज्यसभा के लिए प्रदेश की 11 सीटों पर हो रहे चुनाव के नामांकन 31 मई तक दाखिल किए जा सकेंगे। एक जून को नामांकन पत्रों की जांच होगी और 3 जून तक नाम वापस लिए जा सकेंगे। 10 जून को सुबह 9 से शाम 4 बजे तक मतदान होगा और शाम 5 बजे से मतगणना होगी।

क्या होगी 'क्रॉस वोटिंग'?

बताते चलें कि, भारतीय जनता पार्टी (BJP) के पास 273 विधायक हैं। ऐसे में उन्हें प्रथम और द्वितीय वरीयता क्रम के मतदान के आधार पर 8 सीट जीतने में कोई परेशानी नहीं होगी। सपा के पास 125 विधायक हैं। यदि क्रॉस वोटिंग (Cross Voting) न हुई तो इस आधार पर उसे तीन सीट मिलने की पूरी संभावना है।


UP के इन सांसदों का समाप्त हो रहा कार्यकाल

उल्लेखनीय है, कि राज्यसभा में यूपी से 31 सांसद हैं। इनमें से 11 सदस्यों का कार्यकाल 4 जुलाई को समाप्त हो रहा है। राज्य सभा के जिन सदस्यों का कार्यकाल उनमे सतीश चन्द्र मिश्र, अशोक सिद्धार्थ, सुरेन्द्र सिंह नागर, कपित सिब्बल, कुंवर रेवती रमण सिंह, विशंभर प्रसाद निषाद, शिवप्रताप शुक्ला, संजय सेठ, सुखराम सिंह यादव, जयप्रकाश निषाद और जफर इस्लाम शामिल हैं।


सभी फोटो---आशुतोष त्रिपाठी

aman

aman

Next Story