Top

पैसा, पॉवर और आर्म्स का कॉकटेल दे रहा रोडरेज की घटनाओं को अंजाम

Admin

AdminBy Admin

Published on 6 March 2016 3:39 PM GMT

पैसा, पॉवर और आर्म्स का कॉकटेल दे रहा रोडरेज की घटनाओं को अंजाम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: राजधानी में बीते दिनों कई ऐसी वारदातें हुईं जिससे आम आदमी दहशत में है। पैसे और पावर के नशे में चूर इन घटनाओं को अंजाम देने वालों ने दो जिंदगियों को हमेशा के लिए खत्म कर दिया।

हाल की चर्चित घटनाएं

-गोमतीनगर थाने से पचास मीटर दूर कार के बोनट पर हाथ रखने से नाराज कार मालिक ने युवक को गोली मार दी।

-गोंडा में समाजवादी विधायक के भाइयों ने ओवरटेक करने पर गोली मारकर एक शख्स को मौत के घाट उतार दिया।

-गोमतीनगर के फन मॉल के पास मंत्री के बेटों ने गाड़ी ओवरटेक करने के चक्कर में एम्स के डॉक्टर को बंधक बनाकर पीटा। पुलिस और मीडिया के हस्तक्षेप के बाद छोड़ा।

क्या कहते हैं मनोचिकित्सक?

-इस बारे में मनोवैज्ञानिक राजेश चंद्र पांडेय का कहना है कि ऐसी घटनाएं लोगों में डोमिनेट करने की बढ़ती भावना को दिखता है।

-गलती ना मानने की आदत इस कदर बढ़ गई है कि वो किसी भी घटना को अंजाम देने से भी नहीं चूक रहे।

-रोडरेज की ये वारदातें इसी मनोवृत्ति का परिणाम हैं।

-पावर, पैसा और प्रॉपर्टी के साथ आर्म्स के कॉकटेल के हैंगओवर के चलते इस तरह की वारदातें होती हैं।

इन घटनाओं पर कैसे पाया जा सकता है नियंत्रण

-मनोचिकित्सक राजेश पांडेय का कहना है कि फायर आर्म्स से दूरी रखनी चाहिए।

-आर्म्स हाथ में न होने पर बात मार-पीट तक रह जाएगी।

-इस तरह जघन्य अपराधों को रोक जा सकता है।

पीड़ित पक्ष ने कहा-मैं नई गाड़ी दूंगा, मेरा भाई लौटा दे

बदमाशों की गोली से मारे गए रितेश के भाई विभोर अवस्थी का कहना है कि 'ऐसी क्या बात हो गई कि गाड़ी पर हाथ रखने के बदले गोली मार दी। मैं उसे नई गाड़ी दे दूंगा, वे लोग मेरा भाई लौटा दें'।

गोंडा मामले पर क्या कहा मृतक की मां ने?

वहीं गोंडा के विधायक के भाईयों द्वारा मारे गए युवक की मां सरिता (बदला नाम) ने NEWZTRACK को बताया कि गाड़ी को ओवरटेक करने में ऐसा क्या हो गया कि मेरे बेटे को गोली मार दी। विधायक और उनके भाई भी रोज सड़क पर चलते हैं बहुतों को ओवेरटेक करते होंगे तो क्या राहगीर उन्हें गोली मार देते हैं।

डॉ. शर्मा ने क्या कहा?

पशुधन विकास मंत्री राजकिशोर सिंह के बेटे और उसके गुर्गों द्वारा बंधक बनाकर पीटे गए डॉ. शर्मा ने बताया कि मेरी कोई गलती नहीं थी। कह देते तो मैं अपनी गाड़ी पीछे कर लेता। लेकिन सबने हिंसक रुख अपना लिया।

Admin

Admin

Next Story