×

यूपी में युद्ध स्तर पर कार्य करके सड़कों को किया जा रहा है गड्ढा मुक्त : केशव मौर्य

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बताया कि प्रदेश सरकार के गठन के उपरांत उत्तर प्रदेश की समस्त सड़कों को गड्ढामुक्त करने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया था।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 4 Aug 2019 2:51 PM GMT

यूपी में युद्ध स्तर पर कार्य करके सड़कों को किया जा रहा है गड्ढा मुक्त : केशव मौर्य
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने रविवार को बताया कि प्रदेश की सड़कों को गड्ढा मुक्त करने के लिए वित्तीय वर्ष 2019-20 में सामान्य मरम्मत से नवीनीकरण हेतु लगभग 10839 किलोमीटर लंबाई हेतु 1201 करोड़ रुपये की स्वीकृतियां निर्गत की जा चुकी हैं।

11,007 किमी. सड़क की नवीनीकरण के लिए 1464 करोड़ स्वीकृत

जबकि विशेष मरम्मत के साथ नवीनीकरण हेतु लगभग 11007 किलोमीटर एवं लागत 1464 करोड़ की स्वीकृतियां निर्गत की जा चुकी हैं, और कार्य प्रगति पर है।

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बताया कि प्रदेश सरकार के गठन के उपरांत उत्तर प्रदेश की समस्त सड़कों को गड्ढामुक्त करने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया था।

ये भी पढ़ें...राष्ट्रीय मूल्यों के अभाव वाला साहित्य समाज को पतन की ओर ले जाता है: सीएम योगी

इसके उपरांत लोक निर्माण विभाग की 2,35,000 किलोमीटर लंबाई की सड़कों में से 85,160 किलोमीटर लंबाई गड्ढायुक्त पायी गयी थी।

युद्ध स्तर पर गड्ढा मुक्त करने का कार्य किया गया और 15 जून 2017 तक 72,065 किलोमीटर सड़कें गड्ढामुक्त कर दी गई थी और अवशेष लगभग 13000 किलोमीटर लंबाई को माह सितंबर 2017 तक गड्ढा मुक्त किया गया था।

गड्ढा मुक्तमार्गों को मजबूती प्रदान करने के लिए लगभग 24,000 किलोमीटर का नवीनीकरण एवं लगभग 13000 किलोमीटर में विशेष मरम्मत के साथ नवीनीकरण का कार्य किया गया।

ये भी पढ़ें...कांग्रेस नेता श्रीप्रकाश जायसवाल ने BJP पर कसा तंज, कहा-स्वाधीनता के 72 साल…

इस प्रकार लगभग 37000 किलोमीटर लंबाई के मार्गों को नवीनीकृत किया गया। वित्तीय वर्ष 2018-19 में पुनः समस्त मार्ग को गड्ढा मुक्त रखने की कार्ययोजना तैयार कर 3220 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई।

वर्ष 2018-19 में लगभग 44376 किलोमीटर लंबाई मे मार्ग गड्ढामुक्ति हेतु चिन्हित करते हुये शत-प्रतिशत लंबाई को गड्ढा मुक्त किया गया।

केवल गड्ढा मुक्त कार्यों पर ही रुपया 184 करोड़ का व्यय किया गया। इसके अतिरिक्त वर्ष 2018-19 में लगभग 20100 किलोमीटर से अधिक लंबाई के मार्गों को नवीनीकृत किया गया।

ये भी पढ़ें...नहर कटने पर जेई और संबंधित अधिकारी के खिलाफ दर्ज होगी एफआईआर

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story