×

Pilibhit Raid News: अचार की फैक्ट्री पर खाद्य औषधि विभाग का छापा, पांच कुन्टल सड़ा अचार किया नष्ट

Pilibhit Raid News: विभागीय अधिकारियों ने अचार फैक्ट्री का रजिस्ट्रेशन मांगा तो कोई कागज न दिखा पाने पर फैक्ट्री संचालक पर एफआईआर कराने की बात कही गयी है।

Pranjal Gupata

Pranjal GupataWritten By Pranjal GupataPallavi SrivastavaPublished By Pallavi Srivastava

Published on 31 July 2021 6:06 AM GMT

Raid on pickle factory
X

अचार फैक्ट्री पर पड़ा छापा pic(social media)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Pilibhit Raid News: यूपी के पीलीभीत जनपद में खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने एक अचार फैक्ट्री में छापा मार कर कार्रवाई की है। खाद्य सुरक्षा विभाग के अधिकारियों ने फैक्ट्री से कई कुंतल सड़े अचार को नष्ट कराया है। साथ ही एफआईआर दर्ज कराने के आदेश भी दिए है।

भारी मात्रा में अचार बरामद pic(social media)

लोगों की सेहत से खिड़वाड़ करना कोई नयी बात नहीं है। खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम आए दिन फूड फैक्ट्रियों में छापा मारकर नकली सामान बरामद करते हैं। दरअसल मामला थाना सुनगढ़ी इलाके के गुटैहा पिपरा गांव का है जहां अचार बनाने की अबैध फैक्ट्री पर खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम मौके पर पहुँची और छापेमारी की कार्रवाई की। बता दें कि छापेमार के दौरान बड़ी तादाद में सड़ा हुआ अचार पाया गया है।

अचार को किया नष्ट pic(social media)

आपको बता दे कि अधिकारियों की नाक के नीचे अचार बनाने की फैक्ट्री अबैध रुप से चलाई जा रही थी। जब विभागीय अधिकारियों ने अचार फैक्ट्री का रजिस्ट्रेशन मांगा तो कोई कागज न दिखा पाने पर फैक्ट्री संचालक पर एफआईआर कराने की बात कही गयी है। वहीं विभागीय अधिकारियों ने मौके पर ही बड़ी मात्रा में लगभग पांच कुन्टल सड़ा हुआ अचार नष्ट कराया है। फिलहाल अचार बनाने की अबैध फैक्ट्रियों पर छापामार कार्रवाई से जिले में हड़कंप मचा हुआ है। खाद्य एवं सुरक्षा विभाग के अधिकारी ने बताया कि छापेमारी के दौरान अचार के गोदाम में कोई साफ-सफाई नहीं थी वहीं सारे अचार सड़े हुए थे और उसमे से बदबू आ रही थी।

आपको बता दे कि जनपद में ऐसी कई अचार फैक्ट्रियां संचालित है। पर विभागीय छापेमारी के बाद कुछ दिन जरूर हड़कंप मचा रहता है लेकिन फिर धीरे-धीरे मामला सामान्य हो जाता है। कार्रवाई के नाम पर सिर्फ खानापूर्ती ही की जाती है। और लोगो के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ किया जाता है। अब देखना यह है कि आखिर कब तक अचार फैक्ट्री संचालक पर एफआईआर दर्ज कराई जाती है और कब तक इस कार्रवाई को अमल में लाया जाता है।

Pallavi Srivastava

Pallavi Srivastava

Next Story