×

UP Election 2022 : जेल में बंद सांसद आजम खान को कोर्ट से मिली मंजूरी, सपा के टिकट पर करेंगे नामांकन दाखिल

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव ( UP Election 2022) को लेकर समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के कद्दावर नेता आजम खान (Azam Khan) को कोर्ट से आगामी चुनाव को लेकर नामांकन दाखिल करने की मंजूरी मिली है।

aman
By aman
Updated on: 26 Jan 2022 5:09 AM GMT
Samajwadi Party MP and senior leader Azam Khan
X

समाजवादी पार्टी के सांसद और वरिष्ठ नेता आजम खान: फोटो- सोशल मीडिया

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव ( UP Election 2022) को लेकर समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के कद्दावर नेता आजम खान (Azam Khan) को कोर्ट से आगामी चुनाव को लेकर नामांकन दाखिल करने की मंजूरी मिली है।

यूपी विधानसभा चुनाव (UP Elections 2022) के लिए समाजवादी पार्टी ने रामपुर से सांसद आजम खान (Azam Khan) को विधानसभा चुनाव के लिए टिकट दिया है। जिसके बाद आजम खान ने विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने को अदालत से अनुमति मांगी थी। एमपी-एमएलए कोर्ट (MP-MLA Court) ने अब उन्हें अनुमति दे दी है। कोर्ट ने उन्हें जेल से नामांकन दाखिल करने की अनुमति दी है। इसके तहत सीतापुर जेल प्रशासन (Sitapur Jail Administration) को फैक्स (Fax) किया गया है। बताया जा रहा है कि नामांकन दाखिल दौरान आजम खान के प्रतिनिधि कागजात पर दस्तखत कराने के लिए सीतापुर जेल जाएंगे। इसी के बाद उनका नामांकन रामपुर में जमा किया जाएगा।

दो साल से जेल में हैं सपा सांसद

उल्लेखनीय, है कि पिछले दिनों ही सपा सांसद एवं पूर्व मंत्री आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम (Abdullah Azam) को सीतापुर जेल (Sitapur Jail) से रिहा किया गया था। अब्दुल्ला अपने पिता आजम खान के साथ करीब 23 महीने से सीतापुर जेल में बंद थे। पिता-पुत्र को 27 फरवरी 2020 को रामपुर जेल से सीतापुर जेल में स्थानांतरित किया गया था। बीते दिनों आजम खान ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) से चुनाव प्रचार (Election Campaign) की इजाजत मांगी थी। आजम खान ने सर्वोच्च न्यायालय से चुनाव प्रचार के लिए अंतरिम जमानत देने की अपील की थी।

आजम खान पर करीब 100 मुकदमे दर्ज

सपा सांसद आजम खान के खिलाफ यूपी के रामपुर जिले के विभिन्न थानों में करीब 100 सौ मुकदमे दर्ज हैं। ये सभी मामले कोर्ट में लंबित हैं। बीते दो साला से वो जेल में बंद हैं। हालांकि, कई मामलों में उन्हें अदालत से जमानत मिल चुकी है। मगर, सबसे महत्वपूर्ण मामलों में से एक जौहर यूनिवर्सिटी (Jauhar University) से जुड़े अजीम नगर थाने में दर्ज 'शत्रु संपत्ति' के विलय मामले में उनकी जमानत अभी लंबित है। जबकि, राजधानी लखनऊ के एक मामले में भी अभी तक उन्हें जमानत नहीं मिली है। इसी कारण वो जेल में बंद हैं।

प्रचारकों की लिस्ट से पार्टी ने हटाया

वहीं दूसरी तरफ, समाजवादी पार्टी ने आजम खान को रामपुर के शहर विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार घोषित किया है। आजम खान जेल में रहकर ही चुनाव लड़ेंगे। हालांकि, इससे पहले आजम खान ने जेल से बाहर आकर पार्टी के लिए चुनाव प्रचार की अनुमति सुप्रीम कोर्ट से मांगी थी। इसके लिए उन्होंने अर्जी भी दाखिल की थी। गौरतलब है कि राज्य में विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया जारी है। रामपुर सीट के लिए 28 जनवरी 2022 तक नामांकन पत्र भरे जा सकते हैं। समाजवादी पार्टी ने हाल ही में विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए जिन 30 स्टार प्रचारकों की सूची जारी की, उनमें से आजम खान के परिवार को जगह नहीं दी गई है। हालांकि अब, आजम खान की पत्नी और बेटा अब्दुल्ला जेल से बाहर हैं मगर सपा ने अपनी पहली लिस्ट में उन्हें जगह नहीं दी है।

aman

aman

Next Story