×

Shahjahanpur News: हाई वोल्टेज तार की चपेट में आने से तीन बच्चे बुरी तरह झुलसे

बकरी चराने गए तीन बच्चे बिजली की तार के चपेट में आने से पूरी तरह से झुलस गए हैं। तीनों का इलाज स्वास्थ्य केंद्र पर कराया जा रहा है

Sanjay Srivastava

Sanjay SrivastavaReport Sanjay SrivastavaDeepak RajPublished By Deepak Raj

Published on 1 Aug 2021 5:44 PM GMT

All three children admitted in hospital
X

अस्पताल में भर्ती बच्चे

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Sahajahanpur News: शाहजहांपुर उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर के थाना जलालाबाद क्षेत्र में बकरी चराने गए बच्चों को खेतों में निकली 11000 वोल्टेज की लाइन से सेम के बेल से नीचे लगे आरी वाले तारों में करंट उतर आया जिसके कारण बिजली का करंट लगने से गांव के 3 बच्चे झुलस गए। इस खबर को सुनते हीं गांव में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में ग्रामीणों ने तीनों बच्चों को अस्पताल पहुंचाया। फिलहाल करंट से झुलसे तीनों बच्चों का इलाज चल रहा है।


बिजली लगने के बाद अस्पता में भर्ती बच्चे


खेत में बकरी चराने गए थे तीनों बच्चें

जानकारी के अनुसार जलालाबाद के गांव काजलबोझी के रहने वाले जानकारी के अनुसार गांव काजर बोझी के तीन बालक शिवम ,रोली और अवनीश पड़ोस के खेत में बकरी चराने गए हुए थे । वहीं खेत के चारों तरफ तार बंधे हुए थे उन्हीं तारों के किनारे 11 हजार वोल्टेज की लाइन निकली हुई थी। उसके नीचे सेम की बेल फैली हुई थी तथा सेम के बेल के नीचे कांटो वाला लोहे का तार लगा हुआ था। 11000 हाई वोल्टेज की तारों से किसी तरह करंट खेत में बने तारों में उतर आया।


खेत में लगे तारों को शिवांशु और रोली ने पकड़ा तो उनको करंट ने पकड़ लिया उनको बचाने गया अवनीश ने शिवांशु और रोली को वहां से हटाया तो अवनीश को बिजली ने पकड़ लिया। तभी छूटे हुए बच्चे बेहोश हो गए। वही ग्रामीणों ने जब देखा तो वह दौड़कर पहुंचे और उन्होंने किसी तरीके डंडे के सहारे से अवनीश को हटाया। इसके बाद गांव के लोगों ने हाथ पैर व सीना आदि दबाकर उनकी हरकत को जारी रखा और तत्काल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नगरिया पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने तीनों बच्चों को भर्ती करके उनका इलाज शुरू कर दिया है। डॉक्टर का कहना है कि करंट से झूलते तीनों बच्चे खतरे के बाहर हैं उनका इलाज चल रहा जिससे उनकी स्थिति अब ठीक बताई जा रही है।

Deepak Raj

Deepak Raj

Next Story