×

लूलिया वंतूर ने S’HEROES’ को किया सलाम, छिपाकर दे गईं Cheque

रोमानियन एक्‍ट्रेस और मॉडल लूलिया वेंतूर के अचानक शीरोज कैफे पहुंचने पर हुजूम उमड़ पड़ा। जिसने भी सुना वो शीरोज की तरफ बढ़ चला। दरअसल, रविवार को लूलिया एक डिजाइन स्‍टूडियो का उद्घाटन करने राजधानी पहुंची थी। यहां पहुंचने पर उन्‍हें एसिड पीड़िताओं की ओर से संचालित किए जा रहे शीरोज कैफे के बारे में पता चला। इस पर उन्‍होंने वहां जाकर एसिड पीड़िताओं को पर्सनली मिलने और उनके जज्‍बे को सलाम करने की ठानी।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 28 Jan 2018 11:45 AM GMT

लूलिया वंतूर ने S’HEROES’ को किया सलाम, छिपाकर दे गईं Cheque
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: रोमानियन एक्‍ट्रेस और मॉडल लूलिया वेंतूर के अचानक शीरोज कैफे पहुंचने पर हुजूम उमड़ पड़ा। जिसने भी सुना वो शीरोज की तरफ बढ़ चला।

दरअसल, रविवार को लूलिया एक डिजाइन स्‍टूडियो का उद्घाटन करने राजधानी पहुंची थी। यहां पहुंचने पर उन्‍हें एसिड पीड़िताओं की ओर से संचालित किए जा रहे शीरोज कैफे के बारे में पता चला। इस पर उन्‍होंने वहां जाकर एसिड पीड़िताओं को पर्सनली मिलने और उनके जज्‍बे को सलाम करने की ठानी।

ये भी पढ़ें... नवाबी शहर आई लूलिया वंतूर, किया AJARA बुटीक और डिजाईन स्टूडियो का उद्घाटन

लिफाफे में बंद कर दे गईं चेक

शीरोज कैफे पहुंचकर लूलिया ने वहां मौजूद एसिड पीडिताओं से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने शीरोज कैफे की लाइब्रेरी को देखा और पीड़िताओं की कहानी को सुना। उन्‍होंने वहां अपना केस खुद लड रही एसिड पीड़िताओं के सहयोग के लिए एक बड़ी गुमनाम धनराशि का चेक भी दिया। उन्होंने कहा कि मुझे आश्‍चर्य है कि कैसे एक इंसान दूसरे को इस तरह घायल कर सकता है। मैं इन एसिड अटैक सर्वाइवर्स को सलाम करती हूं। मैं इन्‍हें अपना सहयोग देने आई हूं। मैं हमेशा इनके साथ खड़ी रहूंगी।

दिल की बात मानकर आई इंडिया

लूलिया वंतूर ने newstrack.com से बात करते हुए बताया कि उन्‍हें अपना देश छोड़कर इंडिया आने का कोई मलाल नहीं है। वो अपने दिल की आवाज सुनकर इंडिया आई हैं। उन्होंने बताया कि वह भारत इसलिए आई हैं क्‍योंकि उनका दिल यहीं लगता है।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story