साध्वी की योगी को ललकार: मेरी सरकार में बलात्कारी ढूंढने से भी नहीं मिलेंगे

वहीं उन्नाव कांड पर उन्होंने कहा कि हमारे देश की कानून व्यवस्था काफी लचर है और यूपी पुलिस को हैदराबाद पुलिस से सबक लेकर अपना आदर्श मानना चाहिए और तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए।

sadhvi prachi

मेरठ: उत्तर प्रदेश की सत्ता मेरे हाथ में आ जाए तो प्रदेश में बलात्कारी ढूंढने से भी नहीं मिलेंगे। यह कहना है हिंदूवादी नेत्री साध्वी प्राची का। दरअसल मेरठ पहुँची साध्वी प्राची ने मीडिया से बात करते हुए लगातार बढ़ रहे बलात्कार की घटना की निंदा की और कहा कि इसका समाधान सिर्फ वही है जो हैदराबाद पुलिस ने किया है। वहीं उन्होंने कहा कि जिस तरह हैदराबाद पुलिस के एनकाउंटर पर कुछ लोग सवाल खड़े कर रहे हैं तो पहले कहाँ थे वो लोग। उन्होंने कहा कि मेनका गांधी सिर्फ जानवरों से ही प्यार करती है इसलिए जानवरों को बचाने की कोशिश कर रही हैं।

ये भी पढ़ें—ऐसी पत्नियां किस्मत वालों को ही मिलती हैं, न हो यकीन तो देखें रिपोर्ट

देश की कानून व्यवस्था काफी लचर है 

वहीं उन्नाव कांड पर उन्होंने कहा कि हमारे देश की कानून व्यवस्था काफी लचर है और यूपी पुलिस को हैदराबाद पुलिस से सबक लेकर अपना आदर्श मानना चाहिए और तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए। सूबे के मुखिया आदित्यनाथ से भी उन्होंने अपील करते हुए कहा कि योगी जी आपका राज तो एनकाउंटर राज कहलाता है तो फिर जल्दी करो इन बलात्कारियों का एनकाउंटर। सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव पर भी तंज कसते हुए कहा कि पिछली सरकार बलात्कारियों को बोलती थी कि बच्चे हैं बच्चों से तो गलती हो ही जाती है और आज वो ही लोग धरने पर बैठ रहे हैं।

अपने विवादित बयानों से हमेशा चर्चा में बनी रहती हैं साध्वी प्राची

इसके अलावा राहुल गांधी के बयान पर भी कहा कि राहुल गांधी आज हिंदुस्तान को रेप का कैपिटल बता रहे हैं तो शायद वह भूल गए कि सबसे बड़े बलात्कारी नेहरू थे। साध्वी ने कहा कि देश में नक्सलवाद, आतंकवाद और भ्रष्टाचार को जन्म देने वाली कांग्रेसी है। बता दें कि साध्वी प्राची अपने विवादित बयानों से हमेशा चर्चा में बनी रहती हैं। इसके पहले भी वह कई बयानों से सुर्खियों में बनी रही हैं।

ये भी पढ़ें—बाला साहब पर सियासत! कटेंगे हजारों पेड़, शिवसेना ने किया था आरे को लेकर विरोध

साध्वी प्राची मूल रूप से यूपी के बागपत जिले की निवासी हैं। वहां के गांव सिरसली में एक दलित परिवार में साध्वी प्राची का जन्म हुआ। इनका पूरा परिवार आर्य समाजी है। परिवार में माता-पिता के अलावा तीन भाई और एक बहन है। ये अपने भाई-बहनों में सबसे बड़ी हैं। पिता हरबीर सिंह आर्य सरकारी इंटर कॉलेज में शिक्षक थे।