Top

साध्‍वी ने कहा- सउदी से लाओ जाकिर का सिर, मिलेगा 50 लाख इनाम

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 13 July 2016 8:23 AM GMT

साध्‍वी ने कहा- सउदी से लाओ जाकिर का सिर, मिलेगा 50 लाख इनाम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: विश्व हिंदू परिषद (विहिप)की नेता साध्वी प्राची ने इस्लामिक प्रचारक जाकिर नाईक का सिर काटने वाले को 50 लाख का इनाम देने की घोषणा की है। साध्वी ने कहा है कि जो कि सउदी अरब जाकर जाकिर का सिर लाएगा उसे 50 लाख इनाम मिलेगा। उन्‍होंने नाईक केे समर्थन में उतरने वाली एमआईएम को भी निशाने पर लिया है। newztrack से खास बातचीत में साध्वी ने ओवैसी को राष्ट्रदोही बताते हुए कहा कि आतंकियों का समर्थन करने वाले ऐसे देश द्रोहियों को देश निकाला होना चाहिए। इनकी भारत की नागरिकता जब्त कर लेनी चाहिए।

यह भी पढ़ें... प्राची ने कहा- मदरसों में जाहिलों की फौज, भारत की खाते-पाक की गाते हैं

जाकिर नाईक देश का दुश्‍मन

साध्वी ने जाकिर नाइक को देश का दुश्मन बताया है। साध्वी ने कहा कि नाईक धर्मगुरु बनकर आतंकवाद की पौध तैयार कर रहा है। इन धर्मगुरुओं की जांच होनी चाहिए। साध्‍वी ने कहा कि ये धर्मगुरू आज फतवा जारी क्यों नहीं कर रहे? साध्वी ने कहा कि अगर कोई जाकिर की गर्दन काटकर साउदी से भारत लाए और सबसे बड़े पेड़ पर लटकाए तो मैं उसको 50 लाख का इनाम दूंगी।

यह भी पढ़ें... साध्‍वी ने कहा- SP को मिटाने के लिए आजम काफी, रावत पर भी बोला हमला

कश्‍मीर को लेकर क्‍या कहा

कश्मीर को लेकर साध्वी ने कहा कि लातों के भूत बातों से नहीं मानते हैं। उन्होंने कहा कि कश्मीर में सेना को 24 घंटे की छूट दे देनी चाहिए। सेना खुद इन सभी देशद्रोहियों को मार गिराएगी।

जाकिर के समर्थन में उतरी थी एमआईएम

एमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी मंगलवार को इस्लामिक प्रचारक जाकिर नाईक के समर्थऩ में उतरी थी। ओवैसी के एमएलए इम्तियाज जलील ने कहा था कि जाकिर पर किसी कोर्ट का फैसला नहीं आया है फिर भी उनके खिलाफ माहौल बनाया जा रहा है। इम्तियाज जलील महाराष्ट्र के औरंगाबाद से विधायक हैं।

इम्तियाज ने क्या कहा था

-हमारी पार्टी देश के संविधान का पालन करती है और जब तक किसी पर गुनाह साबित नहीं हो जाता उसे अपराधी नहीं मानना चाहिए।

-देश के कई राष्ट्रीय चैनलों ने मुहिम चालाकर जाकिर नाईक के खिलाफ निर्णय दे दिया है।

-अभी तक जाकिर नाईक के खिलाफ केस तक रजिस्टर नहीं हुआ है।

-मीडिया किसी को आंतक का समर्थक कैसे बता सकती है।

Newstrack

Newstrack

Next Story