×

गजब अब किसने दिया अखिलेश को फिर से मुख्यमंत्री बनने का आशीर्वाद

 समाजवादी पार्टी ने एक बयान जारी करके कहा है कि पीजीआई में भर्ती महंत ज्ञानदास ने सपा मुखिया अखिलेश यादव को फिर से यूपी का मुख्यमंत्री बनने का आर्शीवाद दिया है। सपा मुखिया अखिलेश, बीमारी के कारण बीते एक सप्ताह से पीजीआई में भर्ती अयोध्या के हनुमानगढ़ी के महंत ज्ञानदास की कुशलक्षेम लेने रविवार को पीजीआई पहुंचे ।

राम केवी

राम केवीBy राम केवी

Published on 21 July 2019 4:56 PM GMT

गजब अब किसने दिया अखिलेश को फिर से मुख्यमंत्री बनने का आशीर्वाद
X
अखिलेश
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ। समाजवादी पार्टी ने एक बयान जारी करके कहा है कि पीजीआई में भर्ती महंत ज्ञानदास ने सपा मुखिया अखिलेश यादव को फिर से यूपी का मुख्यमंत्री बनने का आशीर्वाद दिया है। सपा मुखिया अखिलेश, बीमारी के कारण बीते एक सप्ताह से पीजीआई में भर्ती अयोध्या के हनुमानगढ़ी के महंत ज्ञानदास की कुशलक्षेम लेने रविवार को पीजीआई पहुंचे ।

सपा द्वारा रविवार को जारी बयान में कहा गया है कि बीमार महंत ज्ञानदास ने सपा अध्यक्ष से कहा कि उनके मुख्यमंत्रित्वकाल में उत्तर प्रदेश का जो विकास हुआ है उसके बाद भाजपा सरकार ने अपना कुछ नहीं किया। समाजवादी सरकार के विकासकार्यों को भाजपाई अपना बताते रहते हैं।

अयोध्या में भजनस्थल सहित जो कार्य समाजवादी सरकार ने शुरू किए थे भाजपा सरकार उससे चिढ़ी हुई हैं। भाजपा के नेता आपके व्यक्तित्व से डरते हैं। लेकिन भाजपा आपका कुछ बिगाड़ नहीं सकती। आप जनता के हित में कार्य करते रहे।

महंत ज्ञानदास ने अखिलेश से कहा कि आप सच्चे, ईमानदार और साफ दिल के इंसान है। राजनीति में आपकी बहुत जरूरत है और मेरा आशीर्वाद है कि आप फिर मुख्यमंत्री बनेंगे। उन्होंने कहा कि आपने हमेशा सबका सम्मान किया है और आज भी आपके व्यवहार में कोई अंतर नहीं आया है।

अखिलेश से अच्छा कोई नहीं

जनता की सेवा का भाव आपके दिल में रहता है। आप जैसा राजनेता ही जनता के दिल में सदा बसता है। राजनेता को सच्चाई का मार्ग नहीं छोड़ना चाहिए। आप सच्चाई और ईमानदारी के रास्ते पर चलते रहिए, ईश्वर आपकी सहायता करेगा। उन्होंने कहा कि उनसे मिलने जो भी नेता अधिकारी आता है उससे वह यह जरूर कहते हैं कि अखिलेश यादव से अच्छा कोई नेता नहीं हैं।

हनुमानगढ़ी सागरिया पट्टी के महंत व अखिल भारतीय षडदर्शन अखाड़ा परिषद के पूर्व अध्यक्ष ज्ञानदास की शुक्रवार देर अचानक तबियत खराब होने पर उन्हें लखनऊ के संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया था। ज्ञानदास को रक्तचाप, सीने व सिर में दर्द की शिकायत है। उनके शिष्य संजय दास उनकी देखभाल कर रहे हैं।

राम केवी

राम केवी

Next Story