Top

विधानपरिषद में सपा का बहुमत बरकरार, अब नहीं अटकेंगे विधेयक

Admin

AdminBy Admin

Published on 6 March 2016 10:26 AM GMT

विधानपरिषद में सपा का बहुमत बरकरार, अब नहीं अटकेंगे विधेयक
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः एमएलसी चुनाव में सपा का डंका बजा है। सत्तारूढ़ दल को 36 में से 31 सीटों पर जीत मिली है। इसमें से आठ सीटों पर पूर्व में ही सपा के एमएलसी निर्विरोध निर्वाचित हो चुके थे। रविवार को हुई मतगणना में बची हुई 28 सीटों में से 23 सीटों पर सपा प्रत्याशियों ने अपने प्रतिद्वंदियों को मात दी, जबकि बसपा के दो, कांग्रेस के एक और दो निर्दलीय प्रत्याशियों ने जीत का स्वाद चखा।

बहुमत बरकरार रखने में सफल रही सपा

वैसे तो ​विधानपरिषद में सपा को 15 जनवरी को ही तब बहुमत हासिल हो गया था। जब परिषद के 36 सदस्यों का कार्यकाल खत्म होने के बाद सदन में बसपा की सदस्य संख्या सिर्फ 11 रह गई थी। 27 सदस्यों के साथ सपा सदन में सबसे बड़ी पार्टी रह गई और अब 31 सीट जीतने के बाद सपा का परिषद में बहुमत बरकरार है।

सरकार को परिषद में बहुमत से मिलेगी राहत

जानकारों का कहना है कि उच्च सदन में बहुमत नहीं होने की वजह से सरकार के कई विधेयक पारित होने में अड़चन आ रही थी। परिषद में सत्तारूढ़ दल सपा का बहुमत न होने के कारण उन्हें विधायी कार्य सलेक्शन कमेटी को भेजना पड़ता था और फिर सरकार इनको दोबारा विधान सभा के पटल पर रखने के लिए मजबूर होती थी। पर परिषद में बहुमत मिलने के बाद सरकार को इससे राहत मिली है। अब सरकार अपने विधायी कार्यों को डंके की चोट पर सदन से पास करा सकती है।

उच्च सदन में बहुमत का आंकड़ा पार कर गई सपा

स्थानीय प्राधिकारी क्षेत्र के 36 विधान परिषद सदस्यों का कार्यकाल 15 जनवरी को पूरा हो गया। इसके साथ बसपा ने उच्च सदन में सबसे बड़े दल होने का रुतबा खो दिया और परिषद में बसपा के सिर्फ 14 सदस्य बचे। 27 सदस्यों के साथ सपा सबसे बड़ी पार्टी बनी। 100 सदस्यों वाले सदन में बहुमत के लिए सपा को 24 और सदस्यों की जरूरत थी। एमएलसी चुनाव के मौजूदा परिणामों में सपा को 36 सीटों में से 31 सीटों पर विजय मिली है। इस तरह सपा परिषद में बहुमत का आंकड़ा पार कर गई है।

अब परिषद में दलीय स्थिति

दल सदस्य

-समाजवादी पार्टी 58

-बहुजन समाज पार्टी 16

-भारतीय जनता पार्टी 07

-कांग्रेस 02

-राष्ट्रीय लोकदल 01

-शिक्षक दल(गैर राजनीतिक) 05

-निर्दलीय समूह 06

विधान परिषद मे कुल सीटों की संख्या - 100

क्षेत्र सदस्य संख्या

विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र 38

स्थानीय निकाय निर्वाचन क्षेत्र 36

शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र 08

स्नातक निर्वाचन क्षेत्र 08

मनोनीत 10

Admin

Admin

Next Story