×

संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव ने कहा- शहीद किसानों को श्रद्धांजलि नहीं, दें कर्माजंलि

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव ने किसानों से बातचीत कर शहीद किसानों को श्रद्धांजलि अर्पित किया। इस दौरान योगेंद्र यादव ने कहा किसान विरोधी पार्टी को हराना होगा।

Bishwa Maurya
Updated on: 15 Feb 2022 2:13 PM GMT
संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव ने कहा- शहीद किसानों को श्रद्धांजलि नहीं, दें कर्माजंलि
X

योगेन्द्र यादव (फाइल तस्वीर)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

रायबरेली। संयुक्त किसान मोर्चा (Samyukt Kisan Morcha) के किसान नेता योगेंद्र यादव (Yogendra Yadav) मंगलवार को रायबरेली पहुंचें। यहां पर उन्होंने किसानों से बातचीत करने के साथ ही साथ गोलीकांड में शहीद हुए किसानों को श्रद्धांजलि देने के लिए शहीद स्मारक मुंशीगंज भी गए| योगेंद्र यादव ने किसानों से बातचीत कर शहीद किसानों को श्रद्धांजलि अर्पित किया। इस दौरान योगेंद्र यादव ने कहा किसान विरोधी पार्टी को हराना होगा।। किसानों को श्रद्धांजलि देने के बाद योगेंद्र यादव ने कहा कि हमारी सच्ची श्रद्धांजलि तभी पूरी होगी जब हम अपने कर्मों से उनके सपनों को पूरा करेंगे इसलिए हमें श्रद्धांजलि नहीं बल्कि कर्माजंलि देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारे किसानों ने जो सपना देखा था वह पूरा नहीं हो पाया।

किसान विरोधी पार्टी को हराना है

मुंशीगंज में हुए गोलीकांड की चर्चा करने के साथ ही साथ उन्होंने पिछले एक साल में शहीद हुए 700 किसानों का भी जिक्र भी किया। उन्होंने कहा कि हमारी सच्ची श्रद्धांजलि तभी पूरी मानी जाएगी, जब हम उनके सपनों को पूरा करेंगे। इस चुनाव में हमें किसानों की विरोधी पार्टी को बुरी तरह से हराना होगा। उन्होंने कहा कि जब तक हम किसानों के हत्यारों को हटाएंगे नहीं तब तक हमारी सच्ची श्रद्धांजलि पूरी नहीं मानी जाएगी। उन्होंने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े प्रदेश की जनता ने वैसा ही करने का पूरा मन बना लिया है।

आवारा पशुओं से किसान तंग

हमारे साथ आंदोलन में पूरे समय तक रहे लाखों पश्चिमी यूपी के किसानों ने बदलाव की बयार के लिए वोट किया है। यहां के किसान भी बहुत परेशान है और अवारा जानवरों से तंग आ चुके हैं। उन्होंने कहा कि मैंने जब किसानों से बातचीत तो उनका जवाब था कि ठंड रातों में खुलेआम के नीचे गुजारा हो रहा है, इसे बाद भी हमारी फसल चर जा रही है। पूर्वी उत्तर प्रदेश के किसानों ने भी इस बार बदलाव का मन बना लिया है।

गौरतलब है की उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव चल रहा है। किसान नेता लगातार बीजेपी को किसान विरोधी पार्टी कहते हुए लोगों से विधानसभा चुनाव में बीजेपी के खिलाफ वोट करने की बात कर रहे हैं।

Bishwa Maurya

Bishwa Maurya

Next Story