×

आजमगढ़: वरिष्ठ पत्रकार की दुकान का पुनः निर्माण कराए जाने की मांग

वरिष्ठ पत्रकार एस के दत्ता की दुकान व एक अखबार का दफ्तर अवैध रूप से ढहाये जाने पर पत्रकारों ने सर्वदलीय सत्याग्रह किया।

Azamgarh Saurabh Upadhyay

Azamgarh Saurabh UpadhyayReport By Azamgarh Saurabh Upadhyay

Published on 5 April 2021 5:04 PM GMT

आजमगढ़: वरिष्ठ पत्रकार की दुकान का पुनः निर्माण कराए जाने की मांग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

आजमगढ़। वरिष्ठ पत्रकार एस के दत्ता की रैदोपुर स्थित दुकान व एक अखबार का दफ्तर अवैध रूप से ढहाये जाने के खिलाफ आंदोलित जिले के पत्रकारों ने अपने आंदोलनों की कड़ी में सोमवार को शहर के डीएवी गांधी तिराहे पर सर्वदलीय सत्याग्रह किया। जर्नलिस्ट क्लब के अध्यक्ष आशुतोष द्विवेदी के नेतृत्व में गांधी तिराहे तक नारेबाजी करते पहुंचे।

दत्ता की दुकान का पुनः निर्माण कराए जाने की मांग

पत्रकारों ने अविलम्ब एसडीएम सदर गौरव कुमार को हटाये जाने के साथ दत्ता की दुकान का पुनः निर्माण कराए जाने व हुए नुकसान की क्षतिपूर्ति दिये जाने की मांग की। साथ ही मांग पूरी न होने तक आंदोलन की प्रतिबद्धता दोहरायी। दत्ता के उत्पीडन की जांच करने दिल्ली से आयी पत्रकारों की टीम का नेतृत्व कर रहे भड़ास 4 मीडिया के संपादक यशवंत सिंह ने कहा कि यह हमला केवल एक पत्रकार पर नहीं बल्कि भारत के संवैधानिक व्यवस्था पर किया गया है।

एसडीएम सदर गौरव कुमार ने गीदड़ों की तरह का काम किया

इसके लिए दोषी अधिकारी को कड़े से कड़ा दण्ड दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यहां के एसडीएम सदर गौरव कुमार ने अपने नाम के अनुरूप काम न करके गीदड़ों की तरह का काम किया है। ऐसे में इस बददिमाग अधिकारी के खिलाफ सोशल मीडिया पर एक अभियान चलाया जायेगा और इस अधिकारी को गीदड़ कुमार के नाम से पहचान दिलाया जायेगा।

एसडीएम सदर ने इस शहर की तासीर पर हमला किया है

जर्नलिस्ट क्लब के अध्यक्ष आशुतोष दिवेदी ने कहा कि इस शहर की अपनी तासीर रही है। एसडीएम सदर ने इस शहर की तासीर पर हमला किया है। इसे यह शहर बर्दास्त नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि यहां के लोगों में विचारों का मतभेद हो सकता है मगर मनभेद कहीं नहीं रहा है। जब भी किसी पर जुल्म, अन्याय व शोषण हुआ है, यहां के लोग जाति, धर्म व दलगत राजनीति से परे हटकर पीड़ित के साथ खड़े हुए हैं और उसे न्याय दिलाया है।

मौजूद लोगों ने अपने विचारों को रखा

आज दत्ता के मसले पर भी समूचा शहर उनके साथ खड़ा है और उनको न्याय दिलाकर ही रहेगा। इस अवसर पर अभिभावक संघ के गोविन्द दूबे, पूर्वांचल विकास संघर्ष समिति के प्रवीण सिंह, भारत रक्षा दल के हरिकेश विक्रम श्रीवास्तव व उमेश सिंह गुड्डू, प्रयास संगठन के रणजीत सिंह, जनवादी लेखक संघ के रवीन्द्र नाथ राय,विश्वविद्यालय अभियान संघ के डा0 प्रवेश सिंह व राकेश गांधी, समाजवादी विचारक संजय श्रीवास्तव, श्रमजीवी पत्रकार संघ के रामअवध यादव,डीएवी पीजी कालेज के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष अभिषेक उपाध्याय निक्की, बसपा के अरूण पाठक, आर्यावर्त महासभा के प्रवीण शुक्ला, रिहाई मंच के राजीव यादव, वरिष्ठ पत्रकार फूलचन्द सिंह के साथ जर्नलिस्ट क्लब के खुर्रम आलम नोमानी, आशुतोष श्रीवास्तव आदि लोग मौजूद रहे और अपने विचारों को रखा। अध्यक्षता वरिष्ठ पत्रकार विजयनारायण ने एवं संचालन जर्नलिस्ट क्लब के अध्यक्ष आशुतोष दिवेदी ने किया।

रिपोर्ट : सौरभ उपाध्याय

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shraddha

Shraddha

Next Story