तो इसलिए जितिन प्रसाद की भाभी ने थामा बीजेपी का दामन

यूपी के शाहजहाँपुर मे भारतीय जनता पार्टी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद की भाभी को प्रत्याशी बनाया है। आज बीजेपी प्रत्याशी नीलिमा प्रसाद ने एक प्रेस कांफ्रेंस कर पत्रकारों से

तो इसलिए जितिन प्रसाद की भाभी ने थामा बीजेपी का दामन

तो इसलिए जितिन प्रसाद की भाभी ने थामा बीजेपी का दामन

शाहजहाँपुर:यूपी के शाहजहाँपुर मे भारतीय जनता पार्टी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद की भाभी को प्रत्याशी बनाया है। आज बीजेपी प्रत्याशी नीलिमा प्रसाद ने एक प्रेस कांफ्रेंस कर पत्रकारों से मुखातिब हुई। चुनाव में जीत दर्ज करने बाद महिलाओं और स्वच्छ भारत पर ज्यादा काम करने की बात कही। इस दौरान उन्होंने कहा महिलाओं की सुरक्षा के लिए पूरे शहर में जगह जगह सीसीटीवी लगवाएं जाएंगे। इसके अलावा बीजेपी नगर अध्यक्ष ने कहा कि महिला सीट होने के चलते सपा प्रत्याशी की 70 साल की उम्र है और फिर ठंड का समय भी आ रहा है। हम नही चाहते है कि चुनाव दोबारा से कराया जाए। हालांकि ये बयान कुछ और ही इशारा कर रहा है। आपको बता दें कि बीजेपी से बनी प्रत्याशी नीलिमा प्रसाद मिरांडा हाउस से जाग्राफी से ग्रेजुएशन के साथ कुमांयु यूनिवर्सिटी से एमए की शिक्षा ग्रहण की है।

तो इसलिए जितिन प्रसाद की भाभी ने थामा बीजेपी का दामन
तो इसलिए जितिन प्रसाद की भाभी ने थामा बीजेपी का दामन

दरअसल बीजेपी ने शाहजहाँपुर की शहर नगरपालिका सीट से राहुल गांधी के बेहद करीबी जितिन प्रसाद के चचेरे भाई कुँवर जयेश प्रसाद की पत्नी नीलिमा प्रसाद पर भरोसा करके अपना प्रत्याशी बनाया है। हालांकि बीजेपी ने जिसको प्रत्याशी बनाया है वह रॉयल फैमिली से आती है। इस फैमिली की सियासत तो काफी उच्च कोटी थी। लेकिन धीरे धीरे सियासत इस प्रसाद भवन से खिसकती चली गई। ऐसे मे जितिन प्रसाद के भाई ने मोदी और योगी लहर को देखते हुए पहले बीजेपी का दामन थामा उसके दो दिन बाद ही जयेश प्रसाद की पत्नी को अपना प्रत्याशी भी घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें….शाहजहांपुर में 12 बच्चों की मौत, मंत्री जी बोले- परिजनों से मिलने का बनाएंगे प्रोग्राम

जिसके बाद अंदर खाने बगावत देखने को मिली थी। लेकिन नगर विकास मंत्री सुरेश कुमार ने बगी हुए नेताओं को समझा बुझाकर एक मंच पर लाने की कोशिश तो की लेकिन आज जब नगरपालिका चैयरमेन नीलिमा प्रसाद ने प्रेस कांफ्रेंस बुलाई तो वहां नगर अध्यक्ष तो नजर आए पर जिला अध्यक्ष नजर नही आए। ऐसे बीजेपी के नेता लाख दावे कर लें कि बीजेपी में किसी तरह की बगावत नही है पर हर मंच पर दिखाई देने वाले नेता डीपीएस राठौर कहीं नजर नही आ रहे थे। क्योंकि डीपीएस राठौर भी जिले मे बीजेपी मे एक अलग पहचान रखते है। क्योंकि डीपीएस राठौर बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर के भाई है। डीपीएस राठौर ने भी अपनी पत्नी के लिए टिकट की दावेदारी की थी। ऐसे मे अभी भी ऐसा माना जा रहा है कि शाहजहाँपुर मे बीजेपी मे अभी कुछ सही नही चल रहा है।

यह भी पढ़ें….BJP ने जितिन प्रसाद की भाभी को दिया टिकट, भारी पड़ सकती है अपनों की अनदेखी

अब बात करते है प्रेस कांफ्रेंस मे मौजूद बीजेपी के नगर अध्यक्ष अनिल बांण का कहना था कि शहर नगरपालिका महिला जनरल सीट है इसलिए सपा से नगरपालिका चैयरमेन रहे चुके है सपा ने तनवीर खान की मां हाजरा बेगम को अपना प्रत्याशी बनाया है। उनका कहना था कि सपा प्रत्याशी हाजरा बेगम उम्र करीब 70 साल है। ऐसे मे आने वाले वक्त मे ठंड भी आ रही है। इसलिए जनता सोच समझकर वोट दें ताकि नगरपालिका चैयरमेन का चुनाव दोबारा न कराया जाए। आप इस बात का मतलब तो समझ सकते है कि चुनाव जिताने के लिए किसी बुजुर्ग महिला प्रत्याशी के लिए भी इस तरह की बयानबाजी बीजेपी के नेता कर सकते है।