×

पत्रकार के घर पुलिस का कहर- पत्नी के साथ मारपीट की, सामान किया तहस-नहस

यूपी के शाहजहांपुर में वरिष्ठ पत्रकार के घर पुलिस का तांडव देखने को मिला है। जहां पुलिस ने पत्रकार के घर दिन दहाड़े घुसकर तोड़फोड़ की। इतना ही नहीं महिला पुलिसकर्मियों ने पत्रकार की पत्नी को घसीट घसीटकर पीटा और दोबारा फिर तोड़फोड़ करने की धमकी देकर चले गए।

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 16 Feb 2019 1:06 PM GMT

पत्रकार के घर पुलिस का कहर- पत्नी के साथ मारपीट की, सामान किया तहस-नहस
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

शाहजहांपुर: यूपी के शाहजहांपुर में वरिष्ठ पत्रकार के घर पुलिस का तांडव देखने को मिला है। जहां पुलिस ने पत्रकार के घर दिन दहाड़े घुसकर तोड़फोड़ की। इतना ही नहीं महिला पुलिसकर्मियों ने पत्रकार की पत्नी को घसीट घसीटकर पीटा और दोबारा फिर तोड़फोड़ करने की धमकी देकर चले गए। पिटाई से पत्रकार की पत्नी के नाक से खून भी निकलने लगा। जबकि पत्रकार एक मीटिंग में लखनऊ गए हुए थे। फिलहाल घटना के बाद पुलिस ने मामले पर चुप्पी साध ली है।

यह भी पढें.....शाहजहांपुर: मांगे मनवाने के लिए किसान यूनियन ने किया अनोखा प्रदर्शन

घटना थाना सदर बाजार के एमनजई जलाल नगर मोहल्ले का है। जहां वरिष्ठ पत्रकार आरिफ सिद्दीकी अपने परिवार के साथ रहते है। आज पत्रकार एक मीटिंग में लखनऊ गए हुए थे। घर में उनकी पत्नी बेटे और उनके भाई थे। दिन दहाड़े आज अशफाक नगर चौकी के प्रभारी संतोष कुमार महिला पुलिसकर्मियों समेत भारी पुलिस फोर्स के साथ पत्रकार के घर धावा बोल दिया। और घर में घुसकर तोड़फोड़ करने लगे। कमरे का सारा सामान जमीन पर फेंक दिया और कमरे में रखा सामान तहस नहस कर दिया। इतना ही नहीं बेरहम पुलिस ने पत्रकार की पत्नी नूरमा खानम को घसीट घसीकर पीटा जिससे उनके नाक से खून निकलने लगा। घर के अंदर घुसने का जिसने विरोध किया उस पर पुलिस ने अपना गुस्सा निकाला। घर में कहर बरपाने के बाद पुलिस दोबारा आने की धमकी देकर चली आई। पत्रकार के घर पुलिस के तांडव की सूचना जब पत्रकारों को मिली तो पत्रकारों ने रोष पनपने लगा। फिलहाल पत्रकारों ने आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

यह भी पढ़ें.....US की नौकरी छोड़ गायों में तलाशा रोजगार, बने शाहजहांपुर के सबसे बड़े दुग्ध उत्पादक

पत्रकार की पीड़ित पत्नी नूरमा खानम ने बताया कि उसके देवर तारिक के दोस्त का कुछ दिन पहले विवाद हो गया था। जिसमें मेरे देवर का एफआईआर का नाम लिखा दिया गया था। पुलिस घर में घुसी और रिवाल्वर मांगने लगी। जबकि तारिक से मेरा कोई लेना देना नहीं है। तारिक का घर मेरे घर के पास में है। पुलिस को उनके घर घुसना चाहिए था। लेकिन पुलिस हमारे घर घुसी और जमकर तोड़फोड़ और मारपीट की है। उन्होंने आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

वहीं पत्रकार के घर पुलिस द्वारा मारपीट के बाद पुलिस के आलाधिकारियों ने चुप्पी साध ली है ओर कुछ भी बताने को तैयार नहीं है।

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story