Top

ओवैसी के बयान से भड़की शिवसेना, फूंका पुतला, पहनाई जूतों की माला

Admin

AdminBy Admin

Published on 15 March 2016 12:27 PM GMT

ओवैसी के बयान से भड़की शिवसेना,  फूंका पुतला, पहनाई जूतों की माला
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम ) के चीफ असदुद्दीन ओवैसी का बयान अब सियासी रंग पकड़ने लगा है। मंगलवार को शिवसेना ने उनका पुतला फूंकते हुए जूतों की माला पहनाई। शिव सेना के प्रदेश प्रमुख बीएन शुक्ला ने कहा कि जिसे भारत माता की जय नहीं बोलना है वह हिंदुस्तान से बाहर चला जाए। इस मौके पर शिवसेना के सैकड़ों कार्यकर्ताओं के अलावा अन्य हिंदू संगठनों के लोग थे।

क्या कहा था ओवैसी ने...

-एआईएमआईएम के नेता ओवैसी ने कहा है कि वह भारत माता की जय नहीं बोलेंगे।

-ओवैसी ने कहा है कि चाहे मेरे गले पर चाकू लगा दो पर मैं भारत माता की जय नहीं बोलूंगा।

-कहा कि संघ नेताओं के कहने पर वो भारत माता की जय के नारे नहीं लगाएंगे।

-आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के बयान के विरोध में ओवैसी ने यह बात कही है।

-भागवत ने पिछले दिनों सुझाव दिया कि नई पीढ़ी को भारत माता की जय बोलना सिखाना होगा।

-ओवैसी ने महाराष्ट्र के लातूर जिले के उडगीर में आयोजित एक सभा में यह बयान दिया है।

हमारे संविधान में नहीं लिखा कि भारत माता की जय बोलना जरुरी

-जनसभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने सभा में मौजूद लोगों से कहा कि मैं भारत में रहूंगा पर भारत माता की जय नहीं बोलूंगा।

-क्योंकि यह हमारे संविधान में कहीं नहीं लिखा है कि भारत माता की जय बोलना जरूरी है।

-औवेसी ने कहा कि चाहे तो मेरे गले पर चाकू लगा दीजिए, पर भारत माता की जय नहीं बोलूंगा।

-इसकी आजादी मुझे मेरा संविधान देता है।

शिव सेना के प्रदेश प्रमुख बीएन शुक्ला ने क्या कहा...

-जो कानून में नहीं लिखा उसका उपहास होगा।

-संविधान बनाने वाले लोगों ने यह सोचा भी नहीं होगा कि इस देश की मिट्टी में पलने वाला बढ़ने वाला कभी अपनी भारत माता का उपहास करेगा।

-उसकी जय जय कार नहीं करेगा।

हिन्दू संगठनों ने किया विरोध

-ओवैसी के इस बयान का पूरे देश के लोगों, हिन्दू संगठनों ने जम कर विरोध किया है।

-हिंदू महासभा की महिला अध्यक्ष किरण तिवारी ने कहा कि यह शर्मिंदा करने वाला बयान हैं।

-जबकि साध्वी प्राची ने ओवैसी के इस बयान की निंदा करते हुए देश को तोड़ने की साजिश बताया था।

नीचे की स्लाइड्स में देखें तस्वीरें

[su_slider source="media: 15351,15345,15346,15347,15349,15350,15352" width="620" height="440" title="no" pages="no" mousewheel="no" autoplay="0" speed="0"] [/su_slider]

Admin

Admin

Next Story