Top

महिला की जान से ज्यादा 10 रुपये की कीमत, इस वीडियो में देखिये पति की हैवानियत

श्रावस्ती के मछरिहवा गांव के भिनगा कोतवाली का ये मामला है। जहां पत्नी द्वारा जेब से 10 रूपये निकाल लेने पर उसके पति ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी।

Network

NetworkNewstrack Network NetworkVidushi MishraPublished By Vidushi Mishra

Published on 7 May 2021 4:47 AM GMT

श्रावस्ती के मछरिहवा गांव के भिनगा कोतवाली का ये मामला है। जहां पत्नी द्वारा जेब से 10 रूपये निकाल लेने पर उसके पति ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी।
X

हैवान पति(फोटो-सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

श्रावस्ती: उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती जनपद से एक हैरान कर देने वाला वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में एक पति अपनी पत्नी को बेरहमी से पीट रहा है। लगातार डंडे से पत्नी को बुरी तरह से मारते हुए हैवानियत पर उतारू इस पति को एक बार भी रहम नहीं आया। बड़ी बात तो ये भी है कि पति इसका खुद ही वीडियो बनवा रहा था।

मछरिहवा गांव के भिनगा कोतवाली का ये मामला है। जहां पत्नी द्वारा जेब से 10 रूपये निकाल लेने पर उसके पति ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी। पत्नी को इतनी बुरी तरह से पीटा, साथ ही उसका वीडियो भी खुद ही बनवाया।

पत्नी को लाठी से पीटते वक्त मासूम बच्चे माँ को न मारने के लिए पिता से गुहार लगाते रहे, लेकिन उसने एक भी न सुनी। हत्या पर उतारु इस शख्स की सारी करतूतें वायरल हो रहे इस वीडियो में देखी जा सकती हैं।

पिटाई का वीडियो हुआ वायरल

बता दें, जनपद के इस वीडियो के वायरल होने के बाद पुलिस ने पति को हिरासत में ले लिया है। इस मामले के बारे में एस ओ भिनगा का कहना है की पति को हिरासत में ले लिया गया है। पत्नी इस वक्त अपने मायके में हैं उससे संपर्क किया जा रहा है।

इस हैवान पति को सख्त से सख्त सजा दी जानी चाहिए। इंसान की जान की कीमत कुछ रह ही नही गई है। महिला पर इस तरह से अत्याचार करने का खुद ही वीडियो वायरल कर अपनी हिम्मत को दिखाते हुए ललकारने वाले इस पति को ऐसे ही पिटाई करते हुए सबक सिखाना चाहिए, जैसे इसने पत्नी की।

समाज चाहे जितना भी पढ़ा-लिखा क्यों न हो गया हो, लेकिन महिलाओं की जो दुर्दशा पहले थी, वहीं आज भी है। तमाम ऐसे किस्से सामने आते है, जिसमें महिलाओं पर असहनीय अत्याचार किया जाता है। वहीं कई अपराध तो संज्ञान में ही नहीं आते।

महिलायें या तो अपनी बेबसी की वजह से या फिर घर-परिवार को ध्यान में रखते हुए अपराध और हैवानियत का शिकार होती रहती हैं।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story