Top

मायावती ने कहा नादान हैं स्मृति, ​​लॉबी में मांगी माफी तो किया माफ

Admin

AdminBy Admin

Published on 28 Feb 2016 4:15 AM GMT

मायावती ने कहा नादान हैं स्मृति, ​​लॉबी में मांगी माफी तो किया माफ
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: बसपा सुप्रीमो मायावती ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को ​हिदायत दी है। उन्होंने कहा कि वह अपने व्यवहार में बदलाव लाएं अन्यथा आगे नहीं बढ़ पाएंगी। रोहित वेमुला मामले को लेकर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और बसपा सुप्रीमो मायावती के बीच मौखिक युद्ध छिड़ा है। मीडिया में चल रहीं खबरों के मुताबिक, मायावती ने कहा कि ईरानी ने संसद की लॉबी में आकर अपने व्यवहार के लिए उनसे माफी मांगी। हमने इसके बाद उन्हें माफ कर दिया। क्योंकि मुझे लगा कि अभी वह परिपक्व नहीं हैं।

मायावती ने केंद्र पर आरोप लगाते हुए कहा कि दुर्गा और महिषासुर के नाम पर केंद्र सरकार देश के दलितों और आदिवासियों को बदनाम कर रही है जबकि सीता की रक्षा करने वाले दलित और जनजातियों के लोग ही थे। उन्होंने कहा कि म​हिशासुर मामला जानबूझकर उठाया गया क्योंकि सरकार रोहित वेमुला का मामला दबाना चाहती है।

क्यों शुरू हुआ मौखिक युद्ध?

राज्यसभा में रोहित वेमुला मामले में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने प्रभावशाली ढंग से सरकार का पक्ष रखा। डिबेट के दौरान ईरानी ने कहा था कि अगर मायावती उनके बयान से संतुष्ट नहीं हुई तो वह अपना सिर काट कर उनके चरणों में रख देंगी। वहीं, अगले दिन ईरानी के जवाब से संतुष्ट नहीं होने का दावा करते हुए मायावती ने कहा कि ईरानी अपना वादा ( सिर काटकर चढ़ाने का ) पूरा करें। इस दौरान ईरानी भी शांत नहीं रहीं। उन्होंने कहा कि अगर मायावती में हिम्मत है तो मेरा सिर ले जा सकती हैं।

Admin

Admin

Next Story