स्मृति ईरानी को पसंद है अमेठी की ये मिठाई, जानें क्या है इसका राज

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। वो सड़क किनारे एक दुकान से समोसे, गुझिया, टिकिया और बालूशाही मिठाई खरीद रही हैं। जानकारी के अनुसार गुरुवार को स्मृति ईरानी अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी के दौरे पर आईं थीं।

असगर

अमेठी: किसी समय में अमेठी के अंदर रिश्तों की डोर मजबूत करने के लिए गांधी-नेहरू परिवार के सदस्य जो पैंतरे खेलकर यहां के लोगों का दिल जीतते थे उस ट्रैक पर आज स्मृति ईरानी फर्राटा भर रही हैं। उदाहरण के तौर पर अमेठी क्षेत्र में अक्सर होटलों पर रुक कर पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी उनके बाद उनकी बेटी प्रियंका गांधी और पंद्रह साल सांसद रहते हुए राहुल गांधी यहां के चाय और समोसे का आनंद लेते थे।

गाड़ी से जाते हुए बराबर ये नेता खेतों में काम करते लोगों को देखते तो गाड़ी रोक कर खेतों में पहुंच जाते। इससे बहुत जल्द इन नेताओं ने अमेठी वासियों के दिलों में घर कर लिया था। यही विरासत थी जिससे सालों कांग्रेस और नेहरू परिवार के सदस्यों ने अमेठी में राज किया। फिलवक्त इसी ढर्रे पर केंद्रीय मंत्री एवं अमेठी सांसद स्मृति ईरानी हैं।

ये भी पढ़ें—दिल्ली को बजट से बहुत उम्मीदें थी लेकिन फिर दिल्ली वालों के साथ सौतेला व्यवहार हुआ: केजरीवाल

स्मृति ईरानी की एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल 

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। वो सड़क किनारे एक दुकान से समोसे, गुझिया, टिकिया और बालूशाही मिठाई खरीद रही हैं। जानकारी के अनुसार गुरुवार को स्मृति ईरानी अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी के दौरे पर आईं थीं।

यहां भेंटुआ ब्लाक में सरकारी योजनाओं की सौगात देने के बाद वो अमेठी कोतवाली के भरेथा गांव गईं थीं। जहां उन्होंने सड़क हादसे के शिकार परिवार वालों के मध्य शोक संवेदना व्यक्त किया था। उसके बाद उनका काफिला प्रतापगढ़ के लिए निकला था जहां वो गंगा यात्रा में शामिल होने जा रही थीं। वापसी में जब स्मृति ईरानी कालाकांकर से अमेठी लौट रही थीं तो रामपुर बवाली बाजार में उनकी गाड़ी रुक गई। यहां वो एक मिठाई की दुकान पर गईं जहां से उन्होंने समोसे, गुझिया, टिकिया और बालूशाही मिठाई खरीदी।

स्मृति को देख ऐसा कहा! मार दूंगा या मर जाऊंगा, जानें कौन है ये शख्स

ये भी पढ़ें— चलते-चलते गिरकर मर रहे लोग: हर तरफ मिल रही लाशें, महामारी की चपेट में चीन

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को इस तरह से दुकान से सामान खरीदते हुए देखकर दुकानदार भी काफी हैरान था। हालांकि उसे इस बात की खुशी भी हुई कि स्मृति ईरानी उसकी दुकान पर पहुंची और खाने का सामान लिया।