×

शौचालय के निर्माण और मरम्मत के लिए करनी पड़ेगी आनलाइन डिमांड, नए निर्माण के साथ मरम्मत को भी मिलेगी धनराशि

Sonbhadra News: ग्राम पंचायतों में लाभार्थियों के लिए निर्मित शौचालय के मरम्मत और नए लाभार्थियों के के शौचालय निर्माण के लिए, अब आनलाइन डिमांड दर्ज करानी होगी।

Kaushlendra Pandey
Updated on: 24 Jun 2022 2:52 PM GMT
स्वच्छ भारत मिशन से निर्मित शौचालय की फोटों
X

स्वच्छ भारत मिशन से निर्मित शौचालय की फोटों (फोटों साभार सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Sonbhadra News: ग्राम पंचायतों में लाभार्थियों के लिए निर्मित शौचालय के मरम्मत और नए लाभार्थियों के के शौचालय निर्माण के लिए, अब आनलाइन डिमांड दर्ज करानी होगी। केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय और पेयजल एवं स्वच्छता विभाग की तरफ से जारी निर्देश के मुताबिक स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण की वेबसाइट पर लाभार्थी स्वयं शौचालय की डिमांड प्रेषित करनी होगी। मांग पत्र के परीक्षण और सत्यापन के उपरांत लाभार्थी के शौचालय निर्माण और मरम्मत की स्वीकृति प्रदान की जाएगी।

स्वच्छ भारत मिशन से पूर्व निर्मित शौचालयों को भी मिलेगा अब से लाभ - स्वच्छ भारत मिशन से पूर्व से निर्मित, सीआरएसपी, सम्पूर्ण स्वच्छता अभियान एवं निर्मल भारत अभियान के अंतर्गत जो भी शौचालय निर्मित हुए हैं। अगर उनमें कोई टूट-फूट हो गई है तो उनकी मरम्मत के लिए भी सरकार धनराशि प्रदान करेगी।

जिला स्वच्छता समिति की तरफ से मिली जानकारी के मुताबिक शौचालय के मरम्मत के लिए, रिट्रोफिटिंग के अंतर्गत ऐसे शौचालयों को वरीयता दी जाएगी, जिनका सेप्टिक टैंक होने की दशा में आउटलेट पर सोख्ता गड्ढा का निर्माण कराया जा सके। एक गड्ढे वाले व्यक्तिगत शौचालय को दो गड्ढे वाले शौचालय में परिवर्तन किया जा सके।

चेंबर निर्माण, सुपरस्ट्रक्चर का कार्य, पैन ट्रेप, पानी टंकी, दरवाजा आदि का भी कार्य रेट्रो फिटिंग के तहत किया जाएगा। जिसके लिए सरकार की तरफ से लाभार्थी को धनराशि उपलब्ध कराई जाएगी। जिला पंचायत राज अधिकारी विशाल सिंह ने बताया कि पहले शौचालय निर्माण के लिए कोई ऑनलाइन व्यवस्था नहीं थी। प्रधान-ग्राम पंचायत अधिकारी के जरिए गांव में होने वाली खुली बैठकों से माध्यम से समय पर पात्रों का चयन किया जाता था।

अब सरकार की तरफ से इसकी नई यानी ऑनलाइन व्यवस्था लागू कर दी गई है। बताया कि इसके लिए पात्र व्यक्ति को गूगल पर Application form for IHHL या https://sbm.gov.in/sbmphase2/homenew.aspx को सर्च करना होगा और इसके जरिए लाभार्थी व्यक्ति नए शौचालय के निर्माण और उसकी मरम्मत दोनों की मांग कर सकेगा।

Prashant Dixit

Prashant Dixit

Next Story