Top

यूपी BJP की नई टीम: कल्याण-राजनाथ के बेटे समेत आरोपी MLA को मिली जगह

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 12 July 2016 7:30 PM GMT

यूपी BJP की नई टीम: कल्याण-राजनाथ के बेटे समेत आरोपी MLA को मिली जगह
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः यूपी विधानसभा चुनाव को जीतने के लिए दम लगा रही बीजेपी ने यूपी की कार्यकारिणी का एलान कर दिया है। इसमें राजस्थान के गवर्नर और यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह और केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के बेटों को अहम पद दिए गए हैं। वहीं शामली से बीजेपी विधायक और मुजफ्फरनगर दंगे के आरोपी सुरेश राणा को भी 15 उपाध्‍यक्षों में जगह दी गई है। कल्याण के बेटे राजबीर सिंह को उपाध्यक्ष बनाया गया है, जबकि राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह महामंत्री बनाए गए हैं। इस नई कार्यकारिणी की बैठक 16 और 17 जुलाई को झांसी में होनी है।

राणा और टंडन के बेटों को भी जगह

-शामली से पार्टी के विवादित नेता सुरेश राणा को उपाध्यक्ष बनाया गया है।

-लखनऊ से पूर्व सांसद लालजी टंडन के बेटे और विधायक आशुतोष टंडन गोपालजी भी उपाध्यक्ष बनाए गए हैं।

-प्रदेश प्रवक्ता रहे विजय बहादुर पाठक अब यूपी बीजेपी के महामंत्री होंगे।

-विधायक राजेश अग्रवाल को कोषाध्यक्ष पद पर बनाए रखा गया है, नवीन जैन सहायक कोषाध्यक्ष होंगे।

कितने सदस्यों की कार्यकारिणी?

-प्रदेश अध्यक्ष केशव मौर्या की टीम में 40 लोग हैं।

-इनमें 15 उपाध्यक्ष, 8 महामंत्री, 15 प्रदेश मंत्री, 1 कोषाध्यक्ष और 1 सह कोषाध्यक्ष हैं।

-यूपी बीजेपी के प्रवक्ता रहे विजय बहादुर पाठक को केशव प्रसाद मौर्या ने तरक्की दी है।

ये है कार्यकारिणी की पूरी लिस्ट

bjp-list

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story