Top

अखिलेश ने CM योगी के दौरे पर उठाए सवाल, कहा- नदी किनारे शवों का अंबार सरकार को क्यों नहीं दिखता

अखिलेश ने कहा BJP का ऐसा कलयुगी राज है जिसमें न जीते जी इलाज मिल रहा और नहीं मरने के बाद अंतिम संस्कार ही हो पा रहा है।

Shreedhar Agnihotri

Shreedhar AgnihotriReporter Shreedhar AgnihotriShreyaPublished By Shreya

Published on 17 May 2021 5:22 PM GMT

अस्पतालों की जमीनी हकीकत पर सरकार को घेरने वाले अखिलेश ने अब योगी के दौरों पर सवाल उठाये
X

अखिलेश यादव-योगी आदित्यनाथ (फोटो साभार- सोशल मीडिया) 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: अब तक अस्पतालों की जमीनी हकीकत को लेकर आये दिन राज्य सरकार को घेरने वाले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने अस्पताल की सच्चाई जानने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के दौरों पर ही सवाल खड़े कर दिए हैं। अखिलेश यादव ने कहा है कि कोरोना और ब्लैक फंगस की बीमारी से लोगों की रोज ही जानें जाने लगी है, इलाज की अव्यवस्थाएं बरकरार हैं, मरीजों की कहीं सुनवाई नहीं है, तब ऐसी अनियंत्रित अवस्था में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दौरों से कौन सा परिणाम आएगा?

अखिलेश यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री जहां जाते हैं अस्पतालों में मरीजों को उनके हाल पर छोड़कर डॉक्टर-अधिकारी उनकी आवभगत में लग जाते हैं। आदेश-निर्देश से क्या हासिल होना है। नदी किनारे शवों का अंबार, मंडराते गिद्धों-चीलों के दृश्य राज्य सरकार को यह सब क्यों नहीं दिखता है?

भाजपा ने 4 साल में नहीं रखी एक भी अस्पताल की नींव

उन्होंने सरकार से सवाल पूछा कि वह बताये कि उत्तर प्रदेश में जो भी स्वास्थ्य ढांचा है वह समाजवादी सरकार में ही निर्मित हुआ है। भाजपा सरकार ने चार वर्ष में किसी अस्पताल की नींव तक नहीं रखी। भाजपा तो रायबरेली-गोरखपुर में एम्स चालू नहीं कर पायी। अवध शिल्पग्राम और हज हाउस आज कोविड इलाज में काम आ रहे हैं, इनका निर्माण भी समाजवादी सरकार के समय ही हुआ था।

अखिलेश यादव (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

अखिलेश ने कहा कि गांवो में दिन पर दिन हालत बिगड़ते जा रहे हैं। राज्य के एक लाख गांवो में 70 प्रतिशत आबादी है। यहां कोरोना या ब्लैक फंगस संक्रमण रोकने की कोई व्यवस्था नहीं है। न बड़े पैमाने पर टेस्टिंग हो रही है, न दवाएं है। पेरासिटामोल तक उपलब्ध नहीं है। वैक्सीनेशन की तो चर्चा करना ही व्यर्थ है। गांव-गांव मातम पसरा है, घर-घर बुखार में तप रहा है।

भाजपा का कलयुगी राज

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष ने कहा कि सबसे दुःखद और शर्मनाक तो यह है कि उत्तर प्रदेश सरकार निरंतर पर्यटन मोड पर चल रही है। पहले दूसरे राज्यों में प्रचार के बहाने अब जिलों-जिलों में दौरा। राज्य में काम बंद, रास्ता बंद। सरकार छलावा के धंधे से अपना काम चला रही है। इस भाजपा का ऐसा कलयुगी राज है जिसमें न जीते जी इलाज मिल रहा है और नहीं मरने के बाद सम्मान से अंतिम संस्कार ही हो पा रहा है।

Shreya

Shreya

Next Story