Top

यूपी में आंधी-पानी ने बरपाया कहर, फसलें चौपट, 7 लोगों ने जान गंवाई

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 23 May 2016 11:23 PM GMT

यूपी में आंधी-पानी ने बरपाया कहर, फसलें चौपट, 7 लोगों ने जान गंवाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः राजधानी लखनऊ समेत यूपी के कई इलाकों में सोमवार को आंधी और बारिश से मौसम भले ही सुहाना हो गया हो, लेकिन तेज हवा और आसमानी बिजली ने किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दीं। बारिश से उड़द और मूंग की फसल नष्ट हुई है। आम को भी नुकसान हुआ है। वहीं, सात लोगों की मौत होने की खबर है, दर्जनों घायल हुए हैं। बरेली-रामपुर रूट पर रेल यातायात भी प्रभावित हुआ।

मौसम ने ढाया कहर

-लखीमपुर खीरी में आसमान बिजली से 15 साल के किशोर की मौत हुई।

-पलिया में बिजली गिरने से दो महिलाओं समेत तीन झुलसे हैं।

-श्रावस्ती, अंबेडकरनगर, गोंडा, बहराइच, सीतापुर और फैजाबाद में फसलें चौपट हुई हैं।

यूपी के ज्यादातर इलाकों में आंधी-बारिश

-इलाहाबाद, प्रतापगढ़, वाराणसी और पूर्वांचल के कई हिस्सों में आंधी के बाद बारिश हुई।

-मथुरा, मैनपुरी, बरेली, बदायूं, शाहजहांपुर, पीलीभीत, बरेली, रामपुर में भी मौसम ने करवट ली।

-बरेली स्टेशन पर बिजली का खंभा गिरने से चार यात्री घायल हुए।

-बरेली और रामपुर के बीच ओएचई लाइन पर पेड़ गिरने से ट्रेन यातायात प्रभावित हुआ।

-अलीगढ़, मुरादाबाद और अमरोहा में भी दर्जनों लोग पेड़ और उड़ती टीन से घायल हुए हैं।

पश्चिमी यूपी में भी मौतें

-मेरठ कैंट बोर्ड परिसर में पेड़ गिरने से एक शख्स की मौत हुई।

-होर्डिंग्स और यूनिपोल गिरने से कई लोग घायल हुए।

-पेड़ गिरने से हाइवे पर जाम लग गया, कई इलाकों में ओले गिरने से फसल चौपट।

-नोएडा में यूनिपोल गिरने से बाइक सवार की मौत।

-गाजियाबाद में पेड़ और खंभे गिरने से कई इलाकों में बिजली गुल हो गई।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story