Top

शोहदे ने दी एसिड अटैक की धमकी, 90% मार्क्स लाने वाली बेटी की पढ़ाई बंद

shalini

shaliniBy shalini

Published on 22 May 2016 9:14 AM GMT

शोहदे ने दी एसिड अटैक की धमकी, 90% मार्क्स लाने वाली बेटी की पढ़ाई बंद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: जहां आज पूरे प्रदेश में लड़कियों ने लड़कों को सीबीएसई के रिजल्ट में मात दी है, वहीं दसवीं में 90 प्रतिशत से भी ज्यादा मार्क्स लाकर पास होने वाली एक होनहार बेटी ने शोहदे से तंग आकर अपनी पढ़ाई छोड़ दी है। अपने ही घर में कैद रहने को मजबूर है। पुलिस हालांकि कार्रवाई करने की बात कह रही है, लेकिन हर बीतता दिन विक्टिम के लिए कष्टकर होता जा रहा है।

देखिए वीडियो...

क्या है मामला

-आगरा मे कई महीनों से शोहदे की छेड़खानी से परेशान युवती आज अपने ही घर में कैद रहने को मजबूर है।

-थाना सदर के सैनिक विहार कॉलोनी के रहने वाली संयोगिता नौहवार कक्षा 11 की स्टूडेंट है।

-संयोगिता को उसके घर के पास ही रहने वाले युवक हरेंद्र, सुमित और एक अन्य कई महीनों से छेड़खानी कर रहे हैं।

-जिसकी शिकायत संयोगिता ने पुलिस से भी की।

-पुलिस ने संयोगिता की शिकायत पर युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

agra crime sanyogita अपनी मां के साथ संयोगिता

जमानत पर छूटकर आने के बाद फिर कर रहा है छेड़खानी

-अदालत से जमानत पर रिहा होने के बाद बदमाश किस्म के इस युवक की हरकतें फिर भी बंद नही हुई।

-उसने संयोगिता के साथ फिर से छेड़खानी करना शुरू कर दिया।

-वह उसके घर और परिवार वालों को धमकी देता है।

-संयोगिता के ऊपर तेजाब डालने की धमकी भी देता रहता है।

आईपीएस बनने का है सपना

-संयोगिता आगरा के सेंट क्लेयर्स में पढ़ती थी, लेकिन लगातार छेड़खानी से परेशान होकर उसने अपनी पढ़ाई तक छोड़ दी।

-संयोगिता पढ़ने में होशियार है और वो आईपीएस ऑफिसर बनना चाहती है।

-लेकिन उसकी ये चाहत घर की चौखट तक ही सिमट कर रह गई है।

क्या कहना है पीड़ित छात्रा का

-पीड़ित छात्रा संयोगिता नौहवार ने बताया कि आए दिन घर में पत्थर फेंकना, गंदी हरकतें और इशारे करना, अचानक रोक लेना, रास्ते में गंदी-गंदी हरकतें करना उसके लिए आम बात है।

-इसके अलावा वह गाली गलौज, छेड़खानी, गलत जगह पर टच करना, रास्ते में रोक कर धमकाना भी उसका रोज का काम है।

-मैंने स्कूल भी छोड़ दिया है, शिकायत भी की है।

-मैं आई पी एस ऑफिसर बनना चाहती हूं, लेकिन अब लगता है कि अब ये पॉसिबल नहीं हो पाएगा।

दोबारा पहुंची अधिकारियों के द्वार

-बार-बार मिल रही धमकियों से परेशान होकर संयोगिता ने अब पुलिस की शरण ली है।

-संयोगिता ने अपनी मां के साथ शहर कप्तान से मिली और अपनी पीड़ा बताई।

-वहीं आगरा पुलिस अधिकारी इस मामले में अदालत से बदमाश युवकों की जमानत खारिज करने की अपील करने की बात कह रहे हैं।

जमानत खारिज की रिपोर्ट भेजी जायेगी कोर्ट

-एस पी सिटी, आगरा सुशील घुले ने बताया कि ये बात हमारे सामने पेश हुई थी।

-तब आरोपी पर छेड़छाड़ का मुकदमा लिखा गया और आरोपी जेल भी गया था।

-अब वो कोर्ट से बेल पर छूट गया है।

agra sp sushil सुशील, एसपी आगरा- फाइल फोटो

-पीड़िता का कहना है कि फिर से उसको परेशान किया जा रहा है।

-उसकी शिकायत हमने सुनी है।

-अगर ऐसी बात है व इनको फिर से परेशान किया जा रहा है, तो बेल कैंशिलेशन की रिपोर्ट कोर्ट को जल्द भेज दी जाएगी।

shalini

shalini

Next Story