Top

अलीगढ़ में रोका गया स्मृति का ​काफिला, सुसाइड केस में जांच की मांग

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 21 Jan 2016 1:04 PM GMT

अलीगढ़ में रोका गया स्मृति का ​काफिला, सुसाइड केस में जांच की मांग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अलीगढ़: एचआरडी मिनिस्टर स्मृति ईरानी को अलीगढ़ दौरे के दौरान भारी आक्रोश झेलना पड़ा। वो आज अलीगढ़ के एक डिग्री कॉलेज में 'बेटी बचाओ, बेटी बढ़ाओ' कार्यक्रम में आई थीं। उनके काफिले ने जैसे ही अलीगढ़ में प्रवेश किया तभी अंबेडकर स्टूडेंट एसोसिएशन ने उसे रोक लिया। एसोसिएशन के लोगों ने स्मृति को रोहित वेमुला के सुसाइड केस की जांच के लिए ज्ञापन दिया। स्मृति ईरानी गुरूवार को टीकाराम कन्या महाविद्यालय के प्रोग्राम में शिरकत करने आई ​थीं।

क्या है पूरा मामला?

* केंद्रीय विश्वविद्यालय के छात्र संगठनों ने अफजल गुरू की फांसी समेत कुछ मुद्दों का विरोध किया था।

* इसमें अंबेडकर स्टूडेन्ट्स एसोसिएशन समेत कुछ अन्य छात्र संगठन भी शामिल थे।

* ABVP के अध्यक्ष सुशील कुमार के साथ छात्रों की धक्का-मुक्की हुई इससे परिषद नाराज था।

* इसके बाद केंद्रीय श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने वाइस चांसलर को चिट्ठी लिखी थी।

* साथ ही उन्होंने केंद्रीय शिक्षा मंत्री स्मृति ईऱानी को भी पूरे मामले से अवगत कराया था।

* विश्वविद्यालय ने रोहित समेत पांच छात्रों को हॉस्टल से सस्पेंड किया । उनकी फ़ेलोशिप रोक दी गई।

* सस्पेंड छात्र विरोध स्वरूप हॉस्टेल के बाहर टेंट डालकर विरोध करने लगे।

* उन्हें 21 दिसंबर को हॉस्टल से बाहर निकाला गया। मेस और दूसरी सुविधाओं से भी वंचित हुए।

* इस घटना के बाद छात्रों ने भूख हड़ताल शुरू की और रोहित वेमुला ने आत्महत्या कर ली।

* आंध्र के गुंटूर का रहने वाला दलित स्टूडेंट रोहित सोशियोलॉजी में शोधार्थी था।

* रविवार को ही रोहित ने फांसी लगा ली उसके पास से पुलिस ने पांच पेज का सुसाइड नोट बरामद किया था।

Newstrack

Newstrack

Next Story