×

गन्ना किसानों को जल्द से जल्द कराएं पूरा भुगतान: सुरेश राणा

सुरेश राणा ने चीनी मिलों को पूर्ण क्षमता के साथ गन्ना पेराई करने एवं घटतौली पर अंकुश लगाने को भी कहा है। उन्होंने कहा है कि गन्ना किसानों के साथ घटतौली में दोषियों के विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही कर अवगत कराया जाए।

राम केवी

राम केवीBy राम केवी

Published on 16 Jan 2020 2:53 PM GMT

गन्ना किसानों को जल्द से जल्द कराएं पूरा भुगतान: सुरेश राणा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊः प्रदेश के गन्ना एवं चीनी उद्योग मंत्री, सुरेश राणा ने गन्ना किसानों को अवशेष गन्ना मूल्य का भुगतान कराने के लिए प्रतिदिन सुनवाई के साथ जल्द से जल्द भुगतान कराने के निर्देश दिये हैं। इसके साथ ही भुगतान में लापरवाही बरतने वाली चीनी मिलों के विरूद्व सख्त कार्रवाई करने को कहा गया है।

सुरेश राणा ने चीनी मिलों को पूर्ण क्षमता के साथ गन्ना पेराई करने एवं घटतौली पर अंकुश लगाने को भी कहा है। उन्होंने कहा है कि गन्ना किसानों के साथ घटतौली में दोषियों के विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही कर अवगत कराया जाए।

गन्ना मंत्री की अध्यक्षता में विभागीय अधिकारियों के साथ विस्तृत व गहन मासिक समीक्षा बैठक आज लाल बहादुर शास्त्री, गन्ना किसान संस्थान, उ.प्र. लखनऊ के सभागार में सम्पन्न हुई।

बैठक में वर्तमान एवं विगत पेराई सत्र के गन्ना किसानों को गन्ना मूल्य भुगतान, अनपेड गन्ना मूल्य भुगतान, गन्ना क्रय केन्द्रों के संचालन की स्थिति, आई.जी.आर.एस. के प्रकरणों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण, गन्ना किसानों की समस्याओं के त्वरित निस्तारण, पारदर्शी पर्ची निर्गमन, मानव संपदा, गन्ना समितियो में आगामी निर्वाचन तथा समिति परिसरों में स्वच्छता रखने आदि बिन्दुओं पर समीक्षा करते हुए परिक्षेत्रीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।

कार्य प्रगति की समीक्षा

बैठक के दौरान अनुशासनिक कार्यवाही के लम्बित मामलों, रिट याचिकाओं की अद्यावधिक स्थिति, मानव संपदा से सम्बन्धित प्रगति, सेवानिवृत्त कर्मचारियों के देयको की समीक्षा सहित पर्ची निर्गमन में पूर्ण पारदर्शिता व सभी गन्ना कृषकों को सही समय पर गन्ना पर्ची उपलब्ध कराने के उद्देश्य से विकसित ई.आर.पी. प्रणाली के माध्यम से पेराई सत्र 2019-20 हेतु पर्ची निर्गमन के कार्य की प्रगति की समीक्षा भी की गई।

समस्याओं के निस्तारण के प्रबंध

प्रमुख सचिव, चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास संजय आर. भूसरेड्डी द्वारा परिक्षेत्र स्तर पर ई.आर.पी. में आ रही तकनीकी समस्याओं के निराकरण तथा आई.जी.आर.एस. एवं सी.एम. हेल्पलाइन के प्रकरणों के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण के लिए तकनीकी प्रशिक्षण सत्र की भी व्यवस्था की गई तथां ई.आर.पी. पोर्टल के सभी सेगमेन्ट्स पर विस्तृत चर्चा के साथ परिक्षेत्रीय अधिकारियों की जिज्ञासाओं का समाधान सॉफ्टवेयर प्रदाता कम्पनी के प्रतिनिधियों द्वारा किया गया।

निर्माण कार्यों की समीक्षा

बैठक के दौरान जिला योजना वर्ष 2019-20 में स्वीकृत नवनिर्माण, सुदृढ़ीकरण एवं पुर्ननिर्माणित सड़कों की भौतिक एवं वित्तीय प्रगति तथा बार्डर एरिया डवलपमेंट कार्यक्रमों की प्रगति की समीक्षा की गयी। गन्ना समितियों से सम्बन्धित प्रकरणों पर समीक्षा के दौरान अनपेड गन्ना मूल्य भुगतान, आई.टी. सेल के माध्यम से डाटा करेक्शन सहित फार्म मशीनरी बैंकों की स्थापना के सम्बन्ध में कृत कार्यवाही तथा गन्ना समितियों में आगामी निर्वाचन के दृष्टिगत मतदाता फीडिंग में तेजी लाने एवं समिति परिसरों में स्वच्छता आदि बिन्दुओं पर गहन समीक्षा की गयी।

विकास कार्यों की समीक्षा

इसमें ड्रिप इरीगेशन, जिला योजना, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना, एन.एफ.एस.एम. आदि की वित्तीय एवं भौतिक प्रगति सहित नई खाण्डसारी ईकाइयों की स्थापना, गन्ने के यार्ड एवं चीनी मिल को जोड़ने वाली सड़कें साफ-सुथरी रखनें तथा अलाव की व्यवस्था करने, क्रय केन्द्रों के निरीक्षण एवं कृत कार्यवाही तथा ई.आर.पी. के माध्यम से तौल लिपिकों के पाक्षिक स्थानान्तरण सहित गन्ना कृषकों को प्रोत्साहित करने हेतु संचालित पुरस्कार योजनाओं तथा सोशल मीडिया एवं प्रचार-प्रसार कार्यक्रमों की भी समीक्षा कर आवश्यक दिशा-निर्देश प्रदान किये गये।

ये रहे उपस्थित

समीक्षा बैठक में प्रमुख सचिव, चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग संजय आर. भूसरेड्डी, प्रबन्ध निदेशक, चीनी मिल संघ बिमल कुमार दूबे, अपर गन्ना आयुक्त (प्रशासन) पी.के. उपाध्याय, अपर चीनी आयुक्त, राकेश कुमार मिश्र, विशेष सचिव चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास पवन कुमार गंगवार, संयुक्त निदेशक, चीनी मिल संघ, आर.पी. सिंह, वित्त नियंत्रक के.के. सिंह, अपर गन्ना आयुक्त वाई.एस. मलिक, आर.पी.यादव, वी.के. शुक्ला, मुख्य अभियन्ता राकेश कुमार श्रीवास्तव एवं संयुक्त गन्ना आयुक्त वी.बी. सिंह के साथ समस्त परिक्षेत्रों के उप गन्ना आयुक्त उपस्थित रहे।

राम केवी

राम केवी

Next Story