×

Sultanpur: डिप्टी CM बृजेश पाठक ने जिला अस्पताल का किया औचक निरीक्षण, सुधार के दिए निर्देश

Sultanpur: यूपी के डिप्टी सीएम बृजेश पाठक ने सुल्तानपुर जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया और चिकित्सा व्यवस्था में सुधार के लिए अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं।

Sultanpur farid ahmed
Updated on: 26 May 2022 4:37 PM GMT
Sultanpur News In Hindi
X

Sultanpur: डिप्टी CM ने जिला अस्पताल का किया औचक निरीक्षण।

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Sultanpur: यूपी के डिप्टी सीएम और स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक (Deputy CM and Health Minister Brijesh Pathak) ने लखनऊ से वाराणसी जाते समय शाम को 4:30 बजे सुल्तानपुर जिला अस्पताल (Sultanpur District Hospital) का औचक निरीक्षण किया और चिकित्सा व्यवस्था में सुधार के लिए अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं।

सुल्तानपुर जिला अस्पताल ने वार्डों का लिया जायजा

सुल्तानपुर जिला अस्पताल पहुंचने (Sultanpur District Hospital) पर उन्होंने पहले इमरजेंसी का गहन निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने विभिन्न वार्डों का जायजा लिया वार्ड की और दवाओं की उपलब्धता के बारे में मुख्य चिकित्सा अधीक्षक सुरेश कुमार कौशल (Chief Medical Superintendent Suresh Kumar Kaushal) से जानकारी ली।

उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डीके त्रिपाठी (Chief Medical Officer DK Tripathi) को स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि दवाओं के स्टॉक खत्म होने के 1 हफ्ते के पहले स्वास्थ्य मंत्रालय को अवगत कराएं। इसके बाद डिप्टी सीएम मुख्य चिकित्सा अधीक्षक के कक्ष में जाकर उपस्थिति पंजिका समेत अन्य अभिलेखों की गहन पड़ताल भी की। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से सफाई, स्वच्छ पानी आज की व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त कराने के लिए कहा।उन्होंने बन्द शौचालय पर नाराजगी जताते हुए इसे तत्काल शुरू करने के निर्देश दिए। उन्होंने अस्पताल परिसर में स्थित विद्युत उपकेंद्र को चलाने के लिए प्रबंध निदेशक मध्यांचल विद्युत निगम से फोन पर वार्ता कर उसे जल्द शुरू कराने के लिए कहा। डिप्टी सीएम ने बिरसिंहपुर अस्पताल को भी जल्द शुरू कराने का आश्वासन दिया।


राजधानी अनावश्यक ना रेफर किए जाएं मरीज: स्वास्थ्य मंत्री

चिकित्सकों के द्वारा अनावश्यक रेफर किए जाने की शिकायत पर उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक (Deputy CM and Health Minister Brijesh Pathak) ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि अगर हमारे पास संसाधन है तो मरीजों को अनावश्यक रूप से रेफर न किया जाए उनके बेहतर इलाज की व्यवस्था की जाए। अपना घर छोड़कर लखनऊ बनारस जाने में परिजनों पर अलग से भार पड़ता है। वह असहज होते हैं। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) एवं मुख्यमंत्री योगी (CM Yogi) के नेतृत्व में हम यूपी में वर्ल्ड क्लास चिकित्सा सेवा तैयार कर रहे हैं। हमारे पीएम और सीएम का निर्देश है कि सरकारी अस्पतालों से निराश होकर कोई ना लौटे।

चिकित्सा व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए योगी सरकार बेहद गंभीर: बृजेश पाठक

पत्रकारों से बातचीत करते हुए उप मुख्यमंत्री बृजेश पाठक (Deputy CM Brijesh Pathak) ने कहां कि प्रदेश में चिकित्सा व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए योगी सरकार (Yogi Government) बेहद गंभीर है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सपा सरकार (SP Government) के समय केवल 13 मेडिकल कॉलेज थे, पिछले 5 वर्षों में हमारी सरकार के द्वारा 30 सरकारी एवं 35 निजी मेडिकल कॉलेजों की स्थापना की जा रही है। नए कार्यकाल में शेष 16 जिलों में भी मेडिकल कॉलेज स्थापित कर दिए जाएंगे, जिससे अस्पतालों में डॉक्टरों की व पैरामेडिकल स्टाफ की कमी को पूरा करने में बड़ी मदद मिलेगी।


बजट में 10 हजार चिकित्सकों व पैरामेडिकल कर्मियों की भर्ती का अभियान

उपमुख्यमंत्री ने बताया कि आज बजट में 10 हजार चिकित्सकों व पैरामेडिकल कर्मियों की भर्ती का अभियान चलाकर चिकित्सा कर्मियों एवं संसाधनों की कमी को पूरा किया जाएगा। डिप्टी सीएम व स्वास्थ्य मंत्री ने मान्यता प्राप्त पत्रकारों को आयुष्मान कार्ड दिए जाने पर कहा कि मैं लखनऊ जाने पर इसकी जानकारी करूंगा। अस्पताल से जाते समय उन्होंने जन औषधि केंद्र का भी निरीक्षण किया। स्वास्थ्य मंत्री के निरीक्षण के दौरान भाजपा नेता रामचंद्र मिश्रा, पार्टी प्रवक्ता विजय सिंह रघुवंशी, गौरव पांडे, सुजीत सिंह, अरुण द्विवेदी व संतोष दुबे आदि मौजूद रहे।

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story