×

SC का फैसला आया आड़े, चौदहवीं बीवी के लिए पति ने किया 13वीं का क़त्ल

aman

amanBy aman

Published on 6 Oct 2017 7:15 PM GMT

SC का फैसला आया आड़े, चौदहवीं बीवी के लिए पति ने किया 13वीं का क़त्ल
X
SC का फैसला आया आड़े, चौदहवीं बीवी के लिए पति ने किया 13वीं का क़त्ल
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

शारिब जाफरी

लखनऊ: शादी दर शादी। वो भी एक दो नहीं, 13 शादियां कर चुके एक शख्स ने चौदहवीं शादी के चक्कर में अपनी तेरहवीं बीवी का क़त्ल कर दिया और इस क़त्ल का इल्जाम अपने ही दोस्तों पर डाल दिया। रायबरेली पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद क़ातिल पति ने अपना जुर्म कबूला। जुर्म की वजह नई बीवी की हसरत बताई जा रही है।

महंगाई के इस दौरान में लोगों का एक गृहस्थी चलाने में दम निकल रहा है, लेकिन यूपी के रायबरेली ज़िले के नसीराबाद में रहने वाला मुस्तक़ीम अब तक 13 शादियां कर चुका है।

ये भी पढ़ें ...तीन तलाक पर SC के फैसले का सम्मान, शरीयत में दखल बर्दाश्त नहीं

दर्ज करायी थी पत्नी के अपहरण की रिपोर्ट

शादी दर शादी किए जा रहे मुस्तक़ीम ने अपनी एक दर्जन बीवियों को तलाक़ देने के बाद क़रीब 4 साल पहले ही 22 वर्षीय रेशमा से शादी रचाई थी। साथी से जीने मरने की कसमें खाने और वादा करने वाले मुस्तक़ीम ने 2 अक्टूबर को अपनी पत्नी के अपहरण की रिपोर्ट अपने ही दोस्तों को नामजद करते हुए नसीराबाद थाने में दर्ज कराई थी। जांच के दौरान पुलिस ने रेशमा की लाश गांव के ही खेत से बरामद की। लाश मिलने के बाद रेशमा के पिता मोहम्मद समद ने पुलिस अफसरों के सामने ही रेशमा के पति को क़ातिल बताते हुए कार्रवाई की मांग की।

ये भी पढ़ें ...तीन तलाक पर बोलते ही सोशल मीडिया पर छाए PM मोदी, पढ़ें कमेंट्स

आगे की स्लाइड में पढ़ें पूरी खबर ...

सुप्रीम कोर्ट का फैसला आया आड़े

पुलिस ने जांच के दौरान मुस्तक़ीम के खिलाफ कई सबूत इकट्ठे किए। जिसके बाद उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। पूछताछ के दौरान मुस्तक़ीम ने अपना जुर्म क़ुबूल करते हुए पुलिस को बताया कि रेशमा से अक्सर उसका झगड़ा हो जाया करता था। हाल में तीन तलाक़ को लेकर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद वो तलाक़ दे नहीं सकता था, इसीलिए उसने रेशमा की हत्या कर दी ताकि चौदहवीं शादी में कोई रुकावट न बन सके।

ये भी पढ़ें ...बैकफुट पर AIMPLB, कहा- तीन तलाक का ना हो इस्तेमाल, काजी दूल्हों को दें ऐसी सलाह

अब जेल बना 'ससुराल'!

बता दें, कि मुस्तक़ीम पेशे से ट्रक ड्राइवर है। जायस अमेठी में रहने वाली रेशमा ने घर वालों की मर्ज़ी के खिलाफ मुस्तक़ीम से शादी की थी। धीरे-धीरे जब मुस्तक़ीम की हकीकत रेशमा के सामने आने लगी तो दोनों के बीच झगड़ा होने लगा। इसी वजह से मुस्तक़ीम रेशमा को तलाक़ की धमकी देता था। लेकिन अदालत के फैसले के बाद मुस्तक़ीम ने रेशमा को मौत के घाट उतार दिया। इससे पहले 30 वर्षीय मुस्तक़ीम 12 शादियां कर चुका था और सभी को तीन तलाक़ दे चुका था। पुलिस ने मुस्तक़ीम को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

ये भी पढ़ें ...मोदी बोले : तीन तलाक मुद्दे पर सुधार की शुरुआत करें मुस्लिम नेता

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story