Top

CM आवास के सामने धरने पर बैठे निलंबित IPS ऑफिसर अमिताभ ठाकुर

Admin

AdminBy Admin

Published on 10 March 2016 7:08 AM GMT

CM आवास के सामने धरने पर बैठे निलंबित IPS ऑफिसर अमिताभ ठाकुर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: सपा सुप्रीमों के खिलाफ मुक़दमा दर्ज करवाने वाले निलंबित IPS ऑफिसर अमिताभ ठाकुर ने सरकार पर जान बूझकर परेशान करने का आरोप लगाया है। गुरुवार को अमिताभ ने सीएम आवास पर जाकर धरना दिया। उनका कहना है कि सरेआम बुजुर्ग को थप्पड़ मारने वाले लखनऊ के DIG को अखिलेश सरकार ने 15 दिनों में ही बहाल कर दिया। अमिताभ ठाकुर ने कहा कि उन्हें 8 महीने से निलंबित रखा गया हैं और सपा सरकार उनके साथ जान बूझकर ऐसा दुर्व्यवहार कर रही है।

अमिताभ ठाकुर ने बताया कि उन्होंने इस संबंध में DGP जावीद अहमद को ईमेल के जरिये सूचित कर दिया है। अमिताभ ने कहा कि उन्हें जुलाई 2015 में गलत के खिलाफ आवाज़ उठाने के कारण निलंबित किया गया है और आज तक निलंबित रखा गया है। 90 दिनों की अवधि बीतने के बाद उनका निलंबन आदेश विधिशून्य हो गया है।

अमिताभ ठाकुर ने कहा कि उनके साथ भारी भेदभाव किया जा रहा है। DIG डीके चौधरी की 24 फ़रवरी को थप्पड़ मारने की घटना सामने आने पर इस संबंध में DGP और सीएम ने संज्ञान लिया, लेकिन जांच के बाद निलंबित करने पर भी तत्काल बहाल कर दिया।

Admin

Admin

Next Story