Top

माया को स्वामी प्रसाद की चुनौती, कहा- BSP का यूपी से करूंगा सूपड़ा साफ

बीएसपी से बगावत करने वाले स्वामी प्रसाद मौर्या ने ऐलान किया है कि जब तक वह मायावती और बीएसपी का यूपी से सूपड़ा साफ नहीं कर देंगे, चैन नहीं लेंगे। शुक्रवार को गोरखपुर क्लब में लोकतांत्रिक बहुजन मंच के पहले मंडलीय सम्मेलन में हिस्सा लेने आए स्वामी प्रसाद ने हालांकि ये नहीं बताया कि वह किस पार्टी में जाएंगे। बता दें कि स्वामी प्रसाद के बारे में खबर है कि वह 8 अगस्त को बीजेपी ज्वॉइन कर सकते हैं।

aman

amanBy aman

Published on 6 Aug 2016 7:24 AM GMT

माया को स्वामी प्रसाद की चुनौती, कहा- BSP का यूपी से करूंगा सूपड़ा साफ
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोरखपुर : बीएसपी से बगावत करने वाले स्वामी प्रसाद मौर्या ने ऐलान किया है कि जब तक वह मायावती और बीएसपी का यूपी से सूपड़ा साफ नहीं कर देंगे, चैन नहीं लेंगे। शुक्रवार को गोरखपुर क्लब में लोकतांत्रिक बहुजन मंच के पहले मंडलीय सम्मेलन में हिस्सा लेने आए स्वामी प्रसाद ने हालांकि ये नहीं बताया कि वह किस पार्टी में जाएंगे। बता दें कि स्वामी प्रसाद के बारे में खबर है कि वह 8 अगस्त को बीजेपी ज्वॉइन कर सकते हैं।

स्वामी प्रसाद ने इस बारे में सवाल पूछने पर कहा कि मीडिया के लोग कभी सपा ज्‍वॉइन कराते हैं, कभी नीतीश की पार्टी और कभी बीजेपी में शामिल करा देते हैं। हमने क्या फैसला लिया, ये तो वक्त आने पर हम ही बताएंगे।

बीएसपी पर साधा जमकर निशाना :

-स्वामी प्रसाद मौर्या ने दावा किया कि उनके इस्तीफा देने के साथ ही यूपी में बीएसपी तीसरे नंबर पर चली गई है।

-उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस ठीक से चुनाव लड़ेगी तो बीएसपी चौथे नंबर पर भी जा सकती है।

-मौर्या ने कहा कि मायावती को सरकार बनाने की चिंता नहीं, बस अरबों रुपए बटोरने की जल्दी है।

-सतीश चंद्र मिश्रा के कहने पर उनके परिवार के लोगों को 25 लालबत्ती बांटी गई।

-नसीमुद्दीन की पत्नी विधान परिषद औऱ बेटा लोकसभा का चुनाव लड़ा, वह भी तो परिवारवाद था।

माया पर लगातार निशाना साधा

-बीएसपी सुप्रीमो मायावती को पैसे का हवस बताया।

-मायावती ने बीएसपी को टिकटों की मंडी बना दिया है।

-अंबेडकर के मिशन की हत्या और कांशीराम के विचारों की हत्या की वजह से पार्टी छोड़ी।

-बीएसपी को टिकटों का बाजार बनाने, कार्यकर्ताओं को गूंगा गुलाम बनाने और अपमान भी पार्टी छोड़ने की वजह।

-स्वामी प्रसाद ने दावा किया कि बीएसपी के दो दर्जन से ज्यादा विधायक उनके साथ खड़े होंगे।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story