Top

BJP से डील में जुटे स्वामी प्रसाद, ADJUST करने को लेकर माथापच्ची

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 24 Jun 2016 7:10 PM GMT

BJP से डील में जुटे स्वामी प्रसाद, ADJUST करने को लेकर माथापच्ची
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली/लखनऊः बीएसपी को बाय-बाय कहने वाले स्वामी प्रसाद मौर्या अपने लिए अब बीजेपी में ठौर तलाश रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक शुक्रवार को उन्होंने यूपी बीजेपी प्रभारी ओम माथुर से मुलाकात की। स्वामी प्रसाद की बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से भी मुलाकात की बात की जा रही है। हालांकि, दोनों के बीच बातचीत की पुष्टि नहीं हो सकी। बता दें कि सपा को गुंडों की पार्टी बताकर स्वामी प्रसाद मौर्या ने वहां के दरवाजे खुद के लिए बंद कर लिए हैं।

स्वामी प्रसाद मौर्या बीजेपी से डील में भले जुटे हों, लेकिन बीजेपी के लिए दिक्कत ये है कि उसने केशव मौर्या को हाल ही में यूपी प्रदेश अध्यक्ष का कार्यभार सौंपा है। स्वामी प्रसाद यूपी के कद्दावर नेताओं में से हैं। ऐसे में उन्हें केशव मौर्या के साथ एडजस्ट कैसे किया जाए, ये यक्ष प्रश्न बीजेपी के सामने खड़ा है। बताया जा रहा है कि इसे लेकर बीजेपी के नेता माथापच्ची कर रहे हैं।

क्या बोले केशव मौर्या?

-पार्टी यूपी के मौजूदा सियासी हालात पर नजर रखे हुए है।

-स्वामी प्रसाद ने बीजेपी में आने के बारे में अभी कोई बात नहीं कही है।

-अगर वह ऐसा कोई प्रस्ताव देते हैं तो उस पर पार्टी जरूर विचार करेगी।

शाह से पिछले महीने हुई मुलाकात?

-सूत्रों के मुताबिक स्वामी प्रसाद की अमित शाह से मई में मुलाकात हुई थी।

-दोनों नेताओं के बीच मुंबई में मुलाकात होने की खबर है।

-कई महीने से बीएसपी से बाहर निकलने का मौका तलाश रहे थे स्वामी प्रसाद।

बीजेपी के सामने क्या है दिक्कत?

-स्वामी प्रसाद मौर्या यूपी के कद्दावर नेताओं में गिने जाते हैं।

-वह जिस ओबीसी वर्ग का प्रतिनिधित्व करते हैं, उसके करीब 8 फीसदी वोटर हैं।

-केशव मौर्या को बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया, ऐसे में स्वामी प्रसाद उनके तहत भला कैसे आएंगे।

-इसे लेकर बीजेपी के नेता माथापच्ची कर रहे हैं।

सपा के दरवाजे फिलहाल बंद

-गुरुवार को स्वामी प्रसाद ने सपा को गुंडों की पार्टी बताया था।

-इससे पहले सीएम अखिलेश यादव ने उनकी तारीफ की थी।

-स्वामी प्रसाद के बयान के बाद आजम ने उन्हें बीएसपी में लौटने की सलाह दी थी।

-शिवपाल यादव ने शुक्रवार को कहा कि स्वामी प्रसाद मौर्या का मानसिक संतुलन बिगड़ गया है।

-सपा नेताओं के इन बयानों से साफ है कि मौर्या के लिए फिलहाल इस पार्टी के दरवाजे बंद हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story