शिक्षक संघ की बड़ी बैठक, कर्मचारियों ने की सरकार से ये बड़ी मांग

बैठक में एक स्वर से सरकार से मांग की गयी कि प्रदेश के सभी राज्य विश्वविद्यालयों का समान रूप से परिसीमन तथा वित्तपोषण किया जाए।

जौनपुर: वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति सभागार में आज मंगलवार को पूर्वांचल विश्वविद्यालय शिक्षक संघ के सभी घटकों एवं कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों की एक आवश्यक बैठक आहूत की गई। बैठक में एक स्वर से सरकार से मांग की गयी कि प्रदेश के सभी राज्य विश्वविद्यालयों का समान रूप से परिसीमन तथा वित्तपोषण किया जाए।

प्रदेश में सम्बद्ध कॉलेजों को लेकर असमानता

बैठक में उपस्थित शिक्षक संघ एवं कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने कहा कि प्रदेश के राज्य विश्वविद्यालयों के परिसीमन एवं वित्तपोषण समान रूप से न होने के कारण भविष्य में गंभीर स्थिति का सामना विश्वविद्यालयों को करना पड़ेगा। वक्ताओं ने कहा कि प्रदेश में सम्बद्ध कालेजों को लेकर बहुत असमानता है। उन्होंने कहा कि इस असमानता के चलते विश्वविद्यालयों में सैलरी और विकास आदि को लेकर गंभीर संकट हो जायेगा।

ये भी पढ़ें-     अम्फान के बाद देश की तरफ बढ़ रहा एक और भयानक तूफान; खतरे में ये राज्य

ऐसे सभी विश्वविद्यालयों को सरकार द्वारा चिन्हित करके उन्हें वित्त पोषित किया जाए। एक स्वर में सभी ने निर्णय लिया कि शिक्षक एवं कर्मचारी संघ की इस भावना और निर्णय को शासन में कार्यवाही हेतु भेजा जायेगा। शासन द्वारा उचित निर्णय न लिए जाने की दशा में न्याय के लिए शिक्षक संघ एवं कर्मचारी संघ उचित निर्णय लेने को बाध्य होंगे।

बैठक में ये लोग रहे मौजूद

ये भी पढ़ें-    कांग्रेस प्रवक्ता आराधना मिश्रा ने कांग्रेस कार्यालय में की प्रेस कॉन्फ्रेंस, देखें तस्वीरें 

इस बैठक में वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के अध्यक्ष डॉ विजय कुमार सिंह, महामंत्री डॉ राहुल सिंह, पूर्व अध्यक्ष डॉ राजीव प्रकाश सिंह ,पूर्व अध्यक्ष डॉ समर बहादुर सिंह ,विश्वविद्यालय परिसर शिक्षक संघ के अध्यक्ष प्रो बीबी तिवारी, महामंत्री डॉ राज कुमार,अनुदानित महाविद्यालय विश्वविद्यालय शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष डॉ विजय प्रताप तिवारी ,स्व वित्त पोषित शिक्षक संघ के अध्यक्ष डॉ प्रभाकर सिंह, महामंत्री डॉ नीलेश कुमार सिंह, शिक्षक संघ के डॉ संजीव कुमार, डॉ अनुराग मिश्र, विश्वविद्यालय कर्मचारी संघ के अध्यक्ष राम जी सिंह , महामंत्री डॉ स्वतंत्र कुमार, पूर्व उपाध्यक्ष डॉ संजय कुमार श्रीवास्तव आदि शामिल रहे।

रिपोर्ट- कपिल देव मौर्य