Top

बहराइच के गांव में बैल को मारने पर तनाव, कई थानों की पुलिस तैनात

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 14 May 2016 11:12 PM GMT

बहराइच के गांव में बैल को मारने पर तनाव, कई थानों की पुलिस तैनात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बहराइचः यहां के हरदी थाना इलाके के मजरा रखौना गांव में बैल को मार डालने से तनाव फैल गया। मौके पर कई थानों की पुलिस तैनात की गई है। सीओ भी मौके पर हैं। इस मामले में सभी सात आरोपी फरार हैं।

bah-2 ग्रामीणों से घटना के बारे में पूछताछ करते पुलिस अफसर

क्या है मामला?

-ननकऊ नाम के शख्स का बैल दो दिन पहले चोरी हुआ था।

-शनिवार को कटा हुआ बैल नरकोटवा जंगल में ग्रामीणों ने देखा।

-गुस्साए लोग मौके पर पहुंचे, तनाव फैलते देख पुलिस भी आई।

-तनाव बढ़ता देख हरदी, बौंडी और खैरीघाट थानों की पुलिस बुलाई गई।

-बड़ी मुश्किल से पुलिस ने लोगों को शांत कर घर भेजा।

bah-3 पुलिस ने गड्ढा खुदवाकर बैल के अवशेष दफ्न करवाए

क्या कहना है पुलिस का?

-सीओ विजय शंकर मिश्र के मुताबिक सात लोग आरोपी हैं और फरार हैं।

-पुत्तन, तजम्मुल, शमशेर, शराफत अली, साबिर अली, अमजद और हनीफ आरोपी हैं।

-सभी पर गोहत्या निरोधक कानून के तहत मुकदमा दर्ज हुआ है।

-आरोपियों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत भी केस दर्ज होगा।

-आरोपियों में से तीन के खिलाफ हत्या का केस पहले से है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story