×

Sitapur News: बेहतर सुविधाएं तो दूर, यहां पर शौचालय व बाउंड्रीवॉल भी नहीं है हुजूर !

Sitapur News: विद्यालय में बेहतर सुविधाएं तो बहुत दूर है आवश्यक सुविधाओं का इंतजार है। स्कूल परिसर में बने शौचालय (toilet) जर्जर है जो कि वर्तमान स्थिति में प्रयोग के लायक नहीं है।

Sami Ahmed
Report Sami Ahmed
Updated on: 1 July 2022 2:01 AM GMT
There is no toilet and boundary wall in primary school in Sitapur.
X

सीतापुर: प्राथमिक विद्यालय में शौचालय व बाउंड्रीवॉल भी नहीं है

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Sitapur News: प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Sarkar) दावा कर रही है कि परिषदीय विद्यालयों (council schools) में बेहतर सुविधाएं उपलब्ध हो रही है। इसी के क्रम में मिशन कायाकल्प योजना (Mission Kayakalp Scheme) भी चलाई जा रही है। सरकार के तमाम प्रयासों के बावजूद भी तमाम ऐसे परिषदीय विद्यालय भी हैं । यहां पर बेहतर सुविधाएं तो बहुत दूर है हकीकत तो यह है कि आवश्यक मूलभूत सुविधाओं से भी वंचित है।

इसका जीता जागता उदाहरण शिक्षा क्षेत्र रामपुर मथुरा (Education Area Rampur Mathura) के प्राथमिक विद्यालय (primary school) पारा रमनगरा का है । इस विद्यालय में बेहतर सुविधाएं तो बहुत दूर है आवश्यक सुविधाओं का इंतजार है । स्कूल परिसर में बने शौचालय (toilet) जर्जर है जो कि वर्तमान स्थिति में प्रयोग के लायक नहीं है । जिससे छात्र छात्रा खुले में जाने को विवश हैं ।

विद्यालय परिसर में शौचालय की सुविधा नहीं

इस स्थिति में कहा जाता है कि विद्यालय परिसर में शौचालय की सुविधा भी उपलब्ध नहीं है । इसी के साथ विद्यालय परिसर में बाउंड्री वाल भी नहीं है । गांव के बीच में स्थित विद्यालय मैं बाउंड्री वाल ना होने से आवारा जानवरों के आतंक के साथ-साथ स्थानीय ग्रामीणों की भी चहल कदमी होती है। जिससे शिक्षण कार्य प्रभावित होता है ।

विद्यालय में आवारा जानवरों का आतंक

विद्यालय में लगभग 102 छात्र पंजीकृत है । लेकिन स्कूल परिसर में बेहतर सुविधा के नाम पर कुछ भी नहीं है । स्कूल के इंचार्ज प्रधानाध्यापक शिवम कुमार यादव ने बताया की समय-समय पर विभाग में स्कूल की समस्याओं को अवगत कराया जाता है लेकिन यहां पर अभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध नहीं हो पाई हैं । स्कूल में शौचालय व बाउंड्री वाल बनवाना अति आवश्यक है । शौचालय ना होने से छात्र छात्राओं के साथ अध्यापकों को भी समस्याएं झेलनी पड़ रही है जबकि स्कूल में बाउंड्री वाल ना होने से आवारा जानवरों के आतंक से छात्रों में भय बना रहता है ।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story